Home » बिज़नेस » Crude oil prices increases up to 6 percent in the previous week
 

4 रुपये तक महंगा हो सकते हैं पेट्रोल-डीजल के दाम, एक सप्ताह में 6% तक महंगा हुआ तेल

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 July 2018, 10:50 IST

अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड ऑयल की बढ़ती कीमतेंं और डॉलर के मुकाबले रुपये के कमजोर होने से पेट्रोल-डीजल के दाम फिर से बढ़ सकते हैं. हालांकि पिछले एक सप्ताह से तेल की कीमतें स्थिर है और पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कोई बदलाव देखने को नहीं मिला है. लेकिन जो बात चिंताजनक है वो यह कि इस दौरान कच्चे तेल की कीमतों में 6 प्रतिशत तक उछाल देखने को मिला है. 

दरअसल इसकी मुख्य वजह क्रूड ऑयल की कीमतें बढ़ना है. भले ही तेल कंपनियों ने पिछले 6 दिनों में पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बदलाव नहीं किया है. लेकिन इस दौरान अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड ऑयल के दाम 3 डॉलर प्रति बैरल का उछाल आया है. वहीं इसकी दूसरी मुख्य वजह पिछले हफ्ते डॉलर के मुकाबले रुपये का अब तक सबसे निचले स्तर पर आना भी है.

ये भी पढ़ें-तेल की कीमतों में हुआ बदलाव, जानिए क्या हैं आपके शहर में आज पेट्रोल-डीजल के दाम

बता दें कि पिछले हफ्ते रुपया डॉलर के मुकाबले 69 रुपये से उपर पहुंच गया था. जिससे देश का इम्पोर्ट बिल बढ़ सकता है. क्योंकि भारत अपनी जरूरत का लगभग 83 प्रतिशत क्रूड ऑयल इम्पोर्ट करता है. साथ ही क्यों कि सरकारी तेल कंपनियां कच्चे तेल के दाम के आधार पर पेट्रोल और डीजल की कीमतें तय करती हैं. ऐसे में करेंसी में उतार-चढ़ाव का भी इस पर असर पड़ता है.

गौरतलब है कि 1 डॉलर प्रति बैरल कीमतों में बढ़ोतरी पर भारतीय बाजार में 63 पैसे का असर होता है, तो इस हिसाब से 6 डॉलर प्रति बैरल अधिक होने पर तेल की कीमतें करीब 4 रुपये तक महंगा हो सकता है.

First published: 2 July 2018, 10:50 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी