Home » बिज़नेस » cyrus Mistry told his wife by message before sacked I am being pulled out of the job
 

'जाने वाली है मेरी जाॅब' नौकरी से निकाले जाने से पहले साइरस मिस्त्री ने भेजा था ये मैसेज

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 October 2017, 13:11 IST

टाटा संस के चेयरमैन पद से हटाए गए साइरस मिस्त्री ने अपनी पत्नी को मैसेज भेज कर अपने निकाले जाने की जानकारी दी थी. उन्होंने अपनी पत्नी रोहिका को लिखा था कि 'मुझे नौकरी से निकाला जा रहा है', यह मैसेज मिस्त्री ने 24 अक्टूबर, 2016 को अपनी पत्नी को उस समय भेजा था, जब उन्हें इसकी सूचना मिली थी कि टाटा सन्स बोर्ड मीटिंग में नौकरी से बर्खास्त कर दिया जाएगा.

साइरस मिस्त्री की टीम से जुड़े ग्रुप एग्जिक्युटिव काउंसिल के पूर्व सदस्य निर्मलय कुमार ने अपने ब्लॉग के माध्यम से शनिवार को इस बात की जानकारी दी. बता दें कि निर्मलय कुमार को भी उसी दिन मिस्त्री के साथ ही बर्खास्त कर दिया गया था. निर्मलय ने अपने ब्लॉग में लिखा है कि यदि कंपनी चाहती तो मिस्त्री को हटाए जाने के मामले को और बेहतर ढंग से हैंडल कर सकती थी. उन्होंने यह भी लिखा कि सार्वजनिक तौर पर मिस्त्री को अपमानित करना सही नहीं था और फिर उसके बाद जो कुछ हुआ उसे टाला भी जा सकता था. उनके मुताबिक कंपनीक के साथ मिस्त्री का कॉन्ट्रैक्ट 31 मार्च 2017 को पूरा होना था. लेकिन इस तरह से अचानक उन्हें निकाल देना उचित नहीं था, जबकि बोर्ड चाहता तो सिर्फ 5 महीने का इंतजार कर सकता था.

कंपनी ने नहीं बताया कारण
बता दें कि निर्मलय कुमार वर्तमान में सिंगापुर मैनेजमेंट यूनिवर्सिटी में मार्केटिंग के प्रोफेसर हैं. उनका आरोप है कि टाटा ग्रुप ने आज तक साइरस मिस्त्री को हटाए जाने का कोई वाजिब कारण नहीं बताया है. उन्होंने अपने ब्लॉग में यह भी लिखा कि मिस्त्री की बर्खास्तगी का कोई सटीक कारण नहीं था, जबकि बर्खास्तगी इस परिप्रेक्ष्य में भी अधिक असामान्य थी कि टाटा ग्रुप में 148 सालों में सिर्फ 6 चेयरमैन होने का इतिहास रहा है. यही नहीं मिस्त्री के सलेक्शन में भी कंपनी ने कोई जल्दी बाजी नहीं दिखाई थी, उनका चुनाव बेहद सावधानी और लंबी प्रक्रिया के तहत किया गया था.

First published: 22 October 2017, 13:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी