Home » बिज़नेस » Delhi-NCR drivers of Ola and Uber, know what their demands are from the government
 

दिल्ली- NCR में हड़ताल पर ओला- उबर के ड्राइवर, कहा- नहीं चुका पा रहे हैं गाड़ियों की किश्त

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 September 2020, 16:04 IST

कैब एग्रीगेटर्स ओला और उबर के लिए काम करने वाले ड्राइवरों के एक वर्ग ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली क्षेत्र में मंगलवार से हड़ताल शुरू कर दी. ड्राइवर किराए में बढ़ोतरी और लोन पेमेंट की अवधि बढ़ाने की मांग कर रहे हैं. कैब ड्राइवर अपनी मांगों को लेकर मंडी हाउस में हिमाचल भवन के पास इकट्ठा होंगे, जिसमें कैब एग्रीगेटर्स द्वारा लगाए गए कमीशन में कटौती और स्पीड पर वाहनों पर लगाए गए ई-चालान को वापस लेना शामिल है.

एक रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली के सर्वोदय ड्राइवर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष कमलजीत सिंह गिल ने कहा कि गुरुवार को लगभग 2 लाख ड्राइवर हड़ताल का हिस्सा होंगे. हड़ताल के कारण दिल्ली वालों को मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है क्योंकि मेट्रो सेवाएं शुरू होना अभी बाकी है और कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए बसें कम क्षमता के साथ चल रही हैं. गिल ने कहा "हड़ताल से ग्रेटर नोएडा, द्वारका और उत्तम नगर सहित दिल्ली-एनसीआर के कई हिस्सों में कैब नहीं चलेंगी''. उन्होंने कहा ''ड्राइवरों को डर है कि बैंक मासिक किस्तों का भुगतान नहीं करने पर वाहनों को जब्त कर देंगे''.


गिल ने कहा ''कोरोना वायरस-लॉकडाउन के कारण ड्राइवर अपनी ईएमआई का भुगतान करने में असमर्थ हैं. लोन चुकाने पर मिली छूट समाप्त हो गई और बैंक पहले ही हम पर दबाव डाल रहे हैं. ड्राइवरों को डर है कि बैंक ईएमआई भुगतान नहीं करने के लिए वाहनों जब्त कर लेंगे''. गिल ने बताया था कि ड्राइवरों को स्पीड के कारण भारी जुर्माना देना पड़ता है.

उन्होंने कहा कि 10 -20 चालान 40 किमी प्रति घंटे से ऊपर चलाने पर हुए हैं. निजी कारों के लिए गति सीमा 50 किमी प्रति घंटा है. कंपनियों द्वारा किराया 6 रुपये प्रति किमी तय किया गया था, जो टैक्सियों के लिए यह सरकारी दरों से कम है. उन्होंने कहा यह 12 रुपये प्रति किमी तक जा सकती है. अगर किराया कम से कम 10 रुपये प्रति किमी होगा तो, यह हमारी कमाई में मदद करेगा.

Gold Price Today : जानिए पटना, लखनऊ और जयपुर में आज क्या हैं 22 कैरेट गोल्ड के दाम

First published: 1 September 2020, 16:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी