Home » बिज़नेस » Diwali 2018: Delhi high court court told the e commerce company make sure you do not sell counterfeit good, except Amazon, Flip Kart
 

ऑनलाइन शॉपिंग में धड़ल्ले से फर्जीवाड़ा, ब्रांडेड के नाम पर मिल रहा है नकली सामान, ऐसे बचें

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 November 2018, 16:11 IST

देश में त्योहारी सीजन की धूम है और लोग धड़ल्ले से ऑनलाइन शॉपिंग कर रहे हैं. इसी बीच नकली सामान डिलीवरी की भी शिकायतें बड़ी संख्या में सामने आ रही है. ऑनलाइन खरीदारी पूरी जांच-पड़ताल करने के बाद ही करें नहीं तो आपको ओरिजनल प्रोडक्ट के नाम पर नकली सामान की डिलीवरी कर दी जाएगी.

दिल्ली हाईकोर्ट ने ई-कॉमर्स कंपनीयों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है कि उनके प्लेटफार्म के माध्यम से बिकने वाला सामान असली हो.कोर्ट ने ई-कॉमर्स कंपनियों की वेबसाइट पर ब्रांडेड सामानों के नकली वर्जन बेचने पर अंकुश लगाने के इरादे से यह कदम उठाया है.

मामले की सुनवाई करते हुए न्यायाधीश प्रतिभा एम सिंह ने निर्देश जारी करते हुए कहा कि ई-कामर्स की दुनिया में नियमों का उल्लंघन कर उत्पाद बेचने वाले बिक्रेता ई-कॉमर्स मंच की वैधता और विश्वनीयता की आड़ में काम करते हैं यह ट्रेडमार्क मालिकों के सामने बड़ी चुनौती है.

महिला के जूते-चप्पल का लग्जरी ब्रैंड ‘क्रिस्टियान लोबोटिन’ की तरफ से एक याचिका दायर की गई थी, कोर्ट ने कहा कि यह कहने की जरूरत नहीं है कि ई-कॉमर्स वेबसाइटों और ऑनलाइन बाजार अगर प्राप्त छूट का लाभ लेते रहना चाहते हैं तो उन्हें ध्यान से काम करने की जरूरत है. याचिका में दावा में किया गया था कि भारत में काम कर रही ई-कॉमर्स साइट डारवेज.कॉम कंपनी के नाम पर नकली सामान बेचती है.

First published: 4 November 2018, 16:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी