Home » बिज़नेस » EPFO suggest pensioners to submit life certificate till 30 November
 

अगर जल्द जमा नहीं किया ये डॉक्यूमेंट तो बंद हो जाएगी आपकी पेंशन, EPFO ने दी जानकारी

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 November 2019, 15:23 IST

अगर आप या आपके परिवार में किसी को नौकरी से रिटायर होने के बाद पेंशन मिल रही है तो ये खबर यकीनन आपके लिए हैं. दरअसल, पेंशनर्स को जल्द ही अपने जीवित होने का प्रमाण पत्र भारतीय स्टेट बैंक (SBI) में जमा करने के निर्देश दिए हैं. अगर कोई पेंशनर्स ऐसे नहीं करता है तो उसकी पेंशन बंद हो जाएगी.

पेंशनर्स अपने जीवित होने का प्रमाण पत्र एसबीआई के अलावा CSC या फिर किसी सरकारी ऑफिस में डिजिटली जमा कर सकते हैं. बता दें कि पहले पेंशनरों को लाइफ सर्टिफिकेट देने के लिए ट्रेजरी के चक्‍कर लगाने पड़ते थे, लेकिन केंद्र सरकार ने डिजिटल इंडिया अभियान के तहत लाइफ सर्टिफिकेट देने की प्रक्रिया को ऑनलाइन कर दिया है. इससे अब मिनटों में पेंशनर अपना लाइफ सर्टिफिकेट अपडेट करा सकते हैं.


बता दें कि जीवन प्रमाण एक आधार बेस्ड डिजिटल लाइफ सर्टिफिकेट होता है. जीवन प्रमाण की मदद से पेंशनर्स अब अपनी निकटतम बैंक ब्रांच, कॉमन सर्विस सेंटर यानी CSC में जाकर लाइफ सर्टिफिकेट को आधार नंबर के जरिए बायोमैट्रिकली ऑथेंटिकेट करना होता है. वहीं अपने पेंशन बैंक अकाउंट से जुड़ी कुछ अन्य डिटेल्स भी देनी होती हैं.

सर्टिफिकेट जमा करने के लिए निकटतम बैंक ब्रांच, CSC या सरकारी ऑफिस का पता jeevanpramaan.gov.in पर ‘लोकेट सेंटर’ ऑप्शन से लगाया जा सकता है. बता दें कि अभी सभी कर्मचारियों की पेंशन स्कीम 1995 के तहत सभी को लाइफ सर्टिफिकेट जमा करना जरूरी है. लाइफ सर्टिफिकेट बनाने का प्रोसेस 1 नवंबर से शुरू हो गया है. इसकी आखिरी तारीख 30 नवंबर 2019 है. ये डॉक्युमेंट देश में पेंशन पाने वाले सभी लोगों को लिए जरूरी है.

लाइफ सर्टिफिकेट को आप घर बैठे भी जमा कर सकते हैं जिसके लिए आपको Pensioner जीवन प्रमाण पोर्टल के जरिए लाइफ सर्टिफिकेट जमा कर सकते हैं. यह आपके आधार नंबर से जुड़ा है. इसके लिए पेंशनर को पेंशन खाते वाली बैंक शाखा में जाने की भी जरूरत नहीं है. जीवन प्रमाण पोर्टल के जरिए आधार ई वेरिफिकेशन को लाइफ सर्टिफिकेट मान लिया जाएगा.

ये भी पढ़ें-

एनसीडीआरसी ने LIC को दिया पॉलिसी धारक को 9 लाख के भुगतान करने का आदेश

आईटी सेक्टर में जा सकती हैं 30,000 से 40,000 नौकरियां : मोहनदास पई

स्टार्टअप 'दूधवाला' के संस्थापकों के खिलाफ केस दर्ज, नहीं चुकाया वेंडरों का बकाया : रिपोर्ट

First published: 19 November 2019, 15:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी