Home » बिज़नेस » Ericsson Mobility report said India to have 780 million VoLTE subscriptions by 2023
 

2023 तक भारत में होंगे 78 करोड़ स्मार्टफोन VoLTE यूजर्स, हर दिन खर्च होगा इतना डाटा

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 June 2018, 19:52 IST

स्वीडिश गियर निर्माता एरिक्सन ने जून 2018 की मोबिलिटी रिपोर्ट में कहा कि 2017 में 20 प्रतिशत एलटीई यूजर्स की तुलना में 2023 तक भारत में कुल एलटीई यूजर्स की संख्या 78 प्रतिशत से अधिक होगी. भारत से एलटीई (वोल्ट) ग्राहकों पर 780 मिलियन कॉल्स होने की उम्मीद है, जबकि 2023 तक देश में कुल स्मार्टफोन सदस्यता 2.5 गुना बढ़कर 975 मिलियन हो जाएगी.

एरिक्सन के अनुसार इसी अवधि के दौरान 1.9 ईबी से 10 ईबी तक की अवधि के दौरान प्रति माह कुल मोबाइल डेटा ट्रेफिक 5 गुना बढ़ने की उम्मीद है. भारत में प्रति स्मार्टफोन (जीबी / माह) का मासिक डेटा उपयोग 2017 में 5.7 जीबी से बढ़कर 2023 तक 13.7 जीबी हो जाएगा.

 

भारत में 168 मोबाइल सब्सक्रिप्शन के अतिरिक्त 2018 की पहली तिमाही में देश द्वारा नेट मोबाइल सब्सक्रिप्शन एडिशन की दूसरी सबसे ज्यादा संख्या है. तिमाही के दौरान चीन ने 98 मिलियन नए ग्राहक जोड़े जबकि इंडोनेशिया ने 6 मिलियन से अधिक सब्सक्रिप्शन जोड़े. इसके बाद नाइजीरिया (+3 मिलियन) और बांग्लादेश (+2 मिलियन) का स्थान है.

एरिक्सन ने कहा कि उत्तरी अमेरिका से 5जी का नेतृत्व करने की उम्मीद है, सभी प्रमुख अमेरिकी ऑपरेटर 2018 के अंत और 20 9 के मध्य के बीच 5जी शुरू करने की योजना बना रहे हैं. 2023 के अंत तक उत्तरी अमेरिका में सभी मोबाइल सब्सक्रिप्शन का लगभग 50 प्रतिशत 5जी के लिए होने का अनुमान है. इसके बाद उत्तर पूर्व एशिया 34 प्रतिशत और पश्चिमी यूरोप 21 प्रतिशत पर है.

2023 के अंत तक उन्नत मोबाइल ब्रॉडबैंड के लिए एरिक्सन ने 1 बिलियन 5जी सब्सक्रिप्शन की भविष्यवाणी की है. अनुमानित अवधि के दौरान 107 डेटा एक्सबाबाइट्स (ईबी) तक पहुंचने के लिए मोबाइल डेटा यातायात आठ गुना बढ़ने का अनुमान है.

ये भी पढ़ें : ऑटो मार्केट: मोटरसाइकिल के मुकाबले स्कूटरों की बिक्री में क्यों आ रही है गिरावट ?

First published: 12 June 2018, 17:03 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी