Home » बिज़नेस » Excise duty on jet fuel cut from 14% to 11% in relief for airlines
 

एयरलाइन कंपनियों को सरकार ने दी बड़ी राहत, जेट ईंधन की कीमत पर घटाई एक्साइज ड्यूटी

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 October 2018, 11:08 IST

केंद्र ने बुधवार को जेट ईंधन पर उत्पाद शुल्क 14% से घटाकर 11% कर दिया है. सरकार के इस कदम को एयरलाइन सेक्टर की मदद के रूप में उठाया गया बड़ा कदम माना जा रहा है. तेल की लगातार बढ़ती कीमतों और रूपये में गिरावट के बाद वित्त मंत्रालय में राजस्व विभाग ने यह कदम उठाया. जनवरी 2014 से विमानन टर्बाइन ईंधन की कीमतें अपने उच्चतम स्तर पर हैं.

दिल्ली में ईंधन की कीमत वर्तमान में 74,567 रुपये प्रति किलोगिटर, कोलकाता में 79,736 रुपये प्रति किलोलीटर, मुंबई में 74,177 रुपये और चेन्नई में 75,521 रुपये हैं. वित्त मंत्रालय के राजस्व विभाग ने एक अधिसूचना में कहा कि संशोधित ड्यूटी गुरुवार से प्रभावी होगी.

 

जुलाई से विमानन टर्बाइन ईंधन की कीमतों में 9.5% की वृद्धि हुई है. जुलाई 2017 से नई दिल्ली में जेट ईंधन की कीमत 58.6% बढ़ी है. 26 सितंबर को केंद्र ने विमानन ईंधन समेत 19 वस्तुओं पर सीमा शुल्क बढ़ाया था. 4 अक्टूबर को सरकार ने ईंधन की कीमत 2.50 रुपये प्रति लीटर घटा दी थी.

वित्त मंत्रालय के राजस्व विभाग ने उत्पाद शुल्क में 1.50 रुपये का कटौती की और तेल विपणन कंपनियों ने 1 लीटर प्रति लीटर कम कर दिया. भारतीय जनता पार्टी शासन के तहत कई राज्य सरकारों ने बाद में पेट्रोल और डीजल की कीमत 2.50 रुपये प्रति लीटर घटा दी थी.

ये भी पढ़ें : फ्लिपकार्ट के Big Billion Days सेल में ये रही टीवी से लेकर मोबाइल, घडी की कीमत

First published: 11 October 2018, 11:08 IST
 
अगली कहानी