Home » बिज़नेस » fastest train vande bharat express or Train 18 fair announced, Pm modi will inaugurate on 15th February
 

देश की सबसे तेज चलने वाली ट्रेन का किराया होगा इतना, शताब्दी और राजधानी से भी अधिक है रफ्तार

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2019, 18:09 IST

भारत की सबसे तेज रफ्तार ट्रेन ''वंदे भारत एक्सप्रेस'' (ट्रेन 18) का उद्घाटन प्रधानमंत्री मोदी 15 फरवरी को करेंगे. प्रत्येक देशवासियों के मन में सबसे तेज गति से चलने वाली इस ट्रेन के किराए को लेकर जिज्ञासा है. अब तक रेलवे ने इसके किराये का खुलासा नहीं किया था लेकिन अब विभाग ने जानकारी दे दी है कि इसमें सफर का आनंद का उठाने के लिए कितने पैसे चुकाने होंगे. ट्रेन की कोच में स्पेन से मंगाई गई विशेष सीट लगाई गई हैं जिसे जरूरत पड़ने पर 360 डिग्री तक घुमाया जा सकता है जिससे सफर और भी आरामदायक हो जाएगा.

इतना होगा किराया

रेलवे ने एयर कंडीशन चेयर कार का किराया 1850 रुपये निर्धारित किया है जबकि एग्जीक्यूटिव चेयर कार का किराया 3520 रुपये है और इसमें कैटरिंग चार्ज भी शामिल है. यात्रियों को खाने-पीने का कोई शुल्क नहीं देना होगा. दिल्ली से वाराणसी के लिए यह किराया है. रिटर्निंग के दौरान चेयर कार का किराया 1795 रुपये और एग्जीक्यूटिव क्लास में चेयर कार का भाड़ा 3470 रुपये है. अगर शताब्दी की बात करें तो दिल्ली से वाराणसी के बीच इसके किराये से डेढ़ गुना चेयर कार का किराया है, जबकि फर्स्ट एसी का 1.4 गुना एग्जीक्यूटिव क्लास का किराया है.

IMF की पूरी दुनिया को चेतावनी कहा विश्व में आएगा आर्थिक बवंडर

सबसे तेज रफ्तार की ट्रेन

अब तक देश में शताब्दी और राजधानी सबसे तेज गति से चलने वाली ट्रेन थी लेकिन अब ट्रेन-18 की रफ्तार अधिक होगी. आधुनिक सुविधाओं से लैस और बिना इंजन के दौड़ने वाली वंदे भारत एक्सप्रेस को बुलेट ट्रेन के मॉडल पर तैयार किया गया है. ट्रेन को ट्रायल के दौरान 180 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार पर दौड़ाया गया है. नई ट्रेन शताब्दी की जगह लेगी, अभी शताब्दी की रफ्तार 130 किमी प्रति घंटे तक है. ऐसे में नई एक्सप्रेस ट्रेन के सफर से लोगों के समय में 15 से 20 प्रतिशत तक की बचत होगी.

First published: 11 February 2019, 18:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी