Home » बिज़नेस » First arrest in IL&FS case, former vice chairman Sankaran in SFIO custody
 

IL&FS मामले में पहली कार्रवाई, पूर्व उपाध्यक्ष हरी शंकरन गिरफ्तार

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 April 2019, 9:51 IST

आईएल एंड एफएस के पूर्व उपाध्यक्ष हरी शंकरन को धोखाधड़ी के आरोप में सोमवार को मुंबई में गिरफ्तार किया गया. शंकरन पर आईएल एंड एफएस ढांचे को नुकसान पहुंचाने का आरोप है. शंकरन पहला व्यक्ति था जिसे IL & FS मामले में गंभीर धोखाधड़ी जांच कार्यालय (SFIO) द्वारा गिरफ्तार किया गया. उन पर आईएल एंड एफएस फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड में अपनी शक्तियों का दुरुपयोग करने और उन संस्थाओं को ऋण देने का आरोप है जो क्रेडिट-योग्य नहीं थे या गैर-निष्पादित खाते के रूप में घोषित किए गए थे.

 

आईएल एंड एफएस फाइनेंशियल सर्विसेज के पास ऋण उपकरणों और बैंक ऋणों के माध्यम से 17,000 करोड़ रुपये से अधिक का उधार था. सूत्रों ने कहा कि भविष्य निधि, पेंशन फंड, ग्रेच्युटी फंड, म्यूचुअल फंड, सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के बैंक, इन डेट इंस्ट्रूमेंट में निवेश करने वालों में से हैं.

आईएल एंड एफएस में कथित वित्तीय अनियमितता पिछले साल तब सामने आई जब कुछ समूह संस्थाएं कर्ज नहीं चुका प् रही थी. सरकार ने अक्टूबर 2018 में कंपनी को अपने नियंत्रण में ले लिया, ताकि देश की वित्तीय प्रणाली और बाजारों को संभावित पतन से बचाया जा सके.

चुनावी साल में पार्टियों को जमकर मिला चंदा, इलेक्टोरल बांड की बिक्री में 62 % की बढ़ोतरी

First published: 2 April 2019, 9:51 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी