Home » बिज़नेस » food items expensive after the petrol diesel expensive, wholesale price inflation rises
 

पेट्रोल-डीजल के बाद लोगों को लगा बड़ा झटका, खाने-पीने की चीजें हुईं महंगी

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 May 2018, 16:10 IST

देश में 4 महीने के अंदर रिकॉर्ड तोड़ थोक महंगाई दर बढ़ने लगी है, इस बात की जनकारी खुद वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय ने दी है. वाणिज्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, अप्रैल 2017 में महंगाई दर 3.85 फीसदी रही थी. अब जारी किए आंकड़ों में डब्ल्यूपीआई पर आधारित महंगाई दर अप्रैल 2018 में 3.18 फीसदी रही.

बता दें कि साल 2018 के मार्च महीने में यह दर 2.47 फीसदी थी. वहीं,अप्रैल महीने में सब्जियों में अपस्फीति 0.89 फीसदी रही जबकि इससे पहले महीने में यह 2.70 फीसदी रही थी. इससे यह साबित हो गया है कि मंहगाई ने अब आम आदमी की कमर तोड़ दी है.

इससे पहले पेट्रोल भी मंहगी हो गई. इस समय दिल्ली में पेट्रोल के दाम 74.80 रुपये लीटर हो गए हैं. इससे पहले दिल्ली में पेट्रोल के दाम 74.63 रुपये लीटर थे. वहीं डीजल की कीमत 65.93 से बढ़कर 66.14 रुपये प्रति लीटर हो गई है. बता दें कि डीजल के ये दाम पिछले 56 महीने से रिकॉर्ड स्तर को पार कर गए हैं.

ये हैं महंगाई दर के आंकड़े

                                   अप्रैल 2018                      मार्च 2018
फ्यूल एंड पावर                  7.85%                          4.70%
पेट्रोल-डीजल                  13.01%                        9.45%
फल                                19.47%                        9.26%
खाने-पीने का सामान          0.87%                          -0.29%
प्राथमिक वस्तुएं                1.41%                          0.24%
मैन्युफैक्चरिंग उत्पाद           3.11%                        3.03%

ये भी पढें: लम्बे समय बाद एयर इंडिया ने की रिकॉर्ड कमाई, मार्च-अप्रैल में 20 फीसदी का लाभ

First published: 14 May 2018, 16:06 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी