Home » बिज़नेस » Forbes, Modi's demonetisation created the youngest billionaire Paytm founder
 

मोदी की नोटबंदी ने पैदा किया सबसे कम उम्र का अरबपति

सुनील रावत | Updated on: 7 March 2018, 16:51 IST

फोर्ब्स की ताजा लिस्ट में पेटीएम के संस्थापक विजय शेखर शर्मा (39) सबसे कम उम्र के भारतीय अरबपति बन गये हैं. जबकि 92 वर्षीय अल्केम लैबोरेटरीज के अध्यक्ष संप्रदा सिंह सबसे ज्यादा उम्र की अरबपति हैं. विजय शेखर शर्मा 1.7 बिलियन डालर के साथ फोर्ब्स सूची में 1,394 वें स्थान पर हैं. वह अंडर-40 लीग में जगह बनाने वाले वह एकमात्र भारतीय अरबपति है.

 

नोटबंदी ने चमकाया कारोबार 

विजय शेखर शर्मा ने 2011 में तेजी से बढ़ते मोबाइल वॉलेट पेटीएम की स्थापना की. शर्मा ने पे टीएम मॉल और एक ई-कॉमर्स व्यापार व्यवसाय और पेटीएम पेमेंट्स बैंक भी बनाया है. फोर्ब्स का कहना है कि वह भारत में नोटबंदी के सबसे बड़े लाभार्थियों में से एक हैं. नोटबंदी के दौरान कैश की कमी के दौरान खुद पीएम मोदी ने भी मोबाइल वॉलेट के इस्तेमाल की बात कही थी.

पेटीएम के 250 मिलियन पंजीकृत यूजर्स और 7 मिलियन ट्रांजेक्शन रोज होते हैं. शर्मा का पेटीएम में हिस्सा 16 फीसदी है, जो अब 9.4 अरब डॉलर के बराबर है. फोर्ब्स की 2018 की सूची में 2,208 अरबपतियों में से केवल दुनिया की सबसे अमीर, सिर्फ 63 की उम्र 40 साल से कम है, जिसमे से आधे से ज्यादा 34 के हैं. कुल मिलाकर दुनिया के 63 सबसे कम उम्र के अरबपतियों की सामूहिक सम्पति 265 अरब अमरीकी डालर डॉलर का हैं.

ई-वॉलट कंपनी पेटीएम के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी विजय शेखर नेनोटबंदी के बाद  कहा  था कि सरकार का फ़ैसला सही है क्योंकि इससे करदाताओं का बेस 2-3 प्रतिशत से आगे बढ़ेगा और डिजिटल भुगतान से देश के ग़रीबों का फ़ायदा होगा.

92 वर्षीय संप्रदा सिंह जो अल्केम लैबोरेटरीज के अध्यक्ष हैं, सबसे उम्रदराज भारतीय अरबपति हैं. वह 1.2 अरब डालर के साथ सूची में 1,867 वें स्थान पर हैं. सिंह ने 45 साल पहले फार्मा फर्म अलकेम लैबोरेटरीज की स्थापना की थी.

 

मुकेश अंबानी सबसे अमीर 

मुकेश अंबानी की संपत्ति पिछले साल के मुकाबले 16.9 बिलियन डॉलर (1.09 लाख करोड़ रुपये) बढ़ी है और वह 40.1 अरब डॉलर (करीब 2.60 लाख करोड़ रुपये) की संपत्ति के साथ देश के सबसे अमीर व्यक्ति हैं. 2017 की लिस्ट में अंबानी 23.2 बिलियन डॉलर के साथ 33वें नंबर पर थे.

ये भी पढ़ें : चिदंबरम पर हमले के लिए मोदी सरकार के पास एक और हथियार तैयार है

विप्रो के अजीम प्रेमजी इस साल लक्ष्मी मित्तल को पीछे छोड़ते हुए देश के दूसरे सबसे अमीर व्यक्ति बन गए हैं. पिछले साल प्रेमजी वैश्विक सूची में 72वें नंबर पर थे और इस साल वह 18.8 बिलियन डॉलर (1.22 लाख करोड़) की संपत्ति के साथ 58वें नंबर पर जगह बनाने में कामयाब रहे हैं. स्टील किंग लक्ष्मी मित्तल की कुल संपत्ति बढ़कर 18.5 बिलियन डॉलर (1.20 लाख करोड़ रुपये) हो गई है.

First published: 7 March 2018, 16:51 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी