Home » बिज़नेस » Foxconn revives Odisha plan for mobile manufacturing after two-year gap iPhones
 

iPhones असेम्बल करने वाली ताईवान की ये कंपनी भारत में जल्द शुरू करने जा रही है अपना प्लांट

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 October 2018, 10:15 IST

 ओडिशा सरकार के साथ राज्य में मोबाइल मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटी स्थापित करने के लिए ताइवान की बहुराष्ट्रीय कंपनी फॉक्सकॉन ने दो साल के अंतराल के बाद चर्चा शुरू कर दी है. दुनिया की सबसे बड़ी इलेक्ट्रॉनिक्स कॉन्ट्रैक्ट कंपनी आईफोन को असेम्बल करने के लिए जानी जाती है. फॉक्सकॉन के शीर्ष अधिकारियों ने हाल ही में ओडिशा के प्रधान सचिव (उद्योग) संजीव चोपड़ा के साथ बैठक की थी. बिजनेस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट के अनुसार राज्य सेल फोन और अन्य आईटी गैजेट्स के लिए विनिर्माण इकाइयों की स्थापना की संभावना तलाश रहा है.

2015 में फॉक्सकॉन ने महाराष्ट्र सरकार के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए थे, जिससे राज्य में इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण संयंत्र के लिए 5 बिलियन डॉलर का निवेश किया गया था. कंपनी ने महाराष्ट्र संयंत्र के संबंध में 2020 तक 50,000 नौकरियां बनाने का वादा किया था. हालांकि यह अभी तक शुरू नहीं हो पाई है. फॉक्सकॉन का इंडिया ऑपरेशन वर्तमान में आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में हैं, जो क्रमशः शाओमी और नोकिया ब्रांडेड हैंडसेट बनाने पर केंद्रित हैं.

 ये भी पढ़ें : जल्द शुरू हो रहा है भारत में 5G ट्रायल, मोदी सरकार चुन सकती है चीन की इस कंपनी को

जून 2016 में जब फॉक्सकॉन ने ओडिशा में एक साइट की पहचान सेलुलर हैंडसेट बनाने के लिए की थी. राज्य सरकार फॉक्सकॉन से 11 नवंबर से 15 नवंबर तक भुवनेश्वर में होने वाले 'मेक इन ओडिशा' शिखर सम्मेलन में अपनी निवेश योजनाओं से संबंधित घोषणाएं कर सकती है.

इस मामले के सूत्रों का कहना है कि "प्रारंभिक वार्ता के आधार पर हम ओडिशा में मोबाइल विनिर्माण डोमेन में फॉक्सकॉन को तीसरे संभावित निवेशक के रूप में गिन रहे हैं. स्टारजीएसएम सेलुलर इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के मोबाइल फोन और एक्सेसरीज़ के अग्रणी वितरक ने ओडिशा में मोबाइल विनिर्माण इकाई की स्थापना में रुचि दिखाई है.

स्टार जीएसएम भुवनेश्वर के बाहरी इलाके में स्थित आईटी कंपनियों के एक समर्पित पार्क इन्फो वैली में प्रस्तावित ईएमसी (इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण क्लस्टर) में चार्जर और पावर बैंकों के साथ मोबाइल बनाएगा. कोलकाता स्थित रश्मी समूह भी ईएमसी में मोबाइल विनिर्माण इकाई की स्थापना के लिए राज्य सरकार के साथ बातचीत कर रहा है.

राज्य सरकार ने अपनी सूचना और संचार प्रौद्योगिकी में किए गए वादे के ऊपर और उसके ऊपर पूंजी निवेश सब्सिडी, मानव पूंजी निवेश सब्सिडी, बिजली प्रोत्साहन, जल प्रोत्साहन और ब्याज सब्सिडी पर अतिरिक्त प्रोत्साहन देकर इलेक्ट्रॉनिक्स में निवेश आकर्षित करने के लिए विशेष प्रोत्साहन पैकेज योजना घोषित कर दी है.

First published: 7 October 2018, 10:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी