Home » बिज़नेस » Future Group plans to alliances with Amazon Walmart and others
 

किशोर बियानी ने बनाया फ्यूचर ग्रुप के लिए नया प्लान, कर सकते हैं बढ़ा गठजोड़

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 May 2018, 15:45 IST

उद्द्योगपति किशोर बियानी की रिटेल कंपनी फ्यूचर ग्रुप अब अन्य कंपनियों की साझेदारी के जरिए अपनी स्थिति मजबूत करना चाहती है. वर्तमान में फ्यूचर ग्रुप कई लिस्टेड कंपनियों के साथ भारत की सबसे बड़ी रिटेल कंपनी के रुप में स्थापित है. आने वाले समय में फ्यूचर ग्रुप कई अन्य कंपनियों के साथ साझेदारी करके अपनी रिटेल चैन को और अधिक विस्तृत कर सकता है.

किशोर बियानी का कहना है की लिस्टेड रिटेलरों के लिए खुदरा विक्रेता के विकल्प के लिए ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म, संभावित साझेदारी और यहां तक कि संयुक्त उद्यम बनाने के लिए इक्विटी निवेश के अधिग्रहण के विकल्प शामिल हैं. बियानी ने कहा कि क्योंकि हम आगे के बारे में सोचते है, इसलिए संभावना है कि हमारे साथ कुछ बडी़ कंपनियां जैसे कुछ बड़े रिटेल कंपनियां, प्रौद्योगिकी कंपनियां और सामरिक निवेशकों में शामिल कंपनियां साथ आ सकती हैं.

इनमें Amazon.com, वॉलमार्ट-फ्लिपकार्ट, अल्फाबेट इंक की Google, चीनी फर्म जैसे टेनेंट होल्डिंग्स लिमिटेड और अलीबाबा ग्रुप होल्डिंग लिमिटेड, और यहां तक कि जापान के सॉफ्टबैंक ग्रुप कार्पोरेशन, भी साथ आ सकती है.

कंपनी ने खुले निवेश विकल्पों में अपने छोटे स्टोर व्यवसाय के लिए 51:49 ज्वाइंट स्टोर भी शामिल किए है. मार्च 2018 तक, कंपनी के पास ईज़ीडे और हेरिटेज ब्रांडों में 832 छोटे स्टोर हैं, जो कि भविष्य के खुदरा राजस्व का 12% है. पिछले कुछ सालों में इस ग्रुप ने फ्यूचर रिटेल ने हाइपरसिटी, नीलगिरिस, हेरिटेज, संगम डायरेक्ट, बिग ऐप्पल और डब्ल्यूएच स्मिथ के अधिग्रहण के साथ सुपरमार्केटस में मजबूत पकड़ बनाई है.

ये भी पढ़ें-लम्बे वक़्त बाद एयर इंडिया ने की रिकॉर्ड कमाई, मार्च-अप्रैल में 20 फीसदी का लाभ

दुनिया के सबसे बड़े खुदरा विक्रेता के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी डौग मैकमिलन ने कहा था कि भारत अपने आकार और विकास दर के मुताबिक दुनिया के सबसे आकर्षक खुदरा बाजारों में से एक है.

First published: 13 May 2018, 15:45 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी