Home » बिज़नेस » Gautam Adani plan to build a commercial airport at Mundra
 

मुंद्रा में गौतम अडानी बनाने जा रहे हैं अपना हवाई अड्ड़ा, करेंगे इतना खर्च

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 July 2019, 16:10 IST

बोइंग 747-400 विमान भारत के सबसे बड़े निजी बंदरगाह के मुंद्रा के नजदीक उतर पायेगा. मुंद्रा देश का सबसे बड़ा निजी पोर्ट माना जाता है, जहां बड़े जहाज एडानी समूह के साथ कार्गो को लोड और अनलोड करते हैं. बिजनेस लाइन की एक रिपोर्ट के अनुसार गौतम अडानी अब यहां एक वाणिज्यिक हवाई अड्डा बनाने के लिए 1,400 करोड़ रुपये के निवेश करने की योजना बना रह हैं.

पर्यावरण मंत्रालय, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय से विशेषज्ञ मूल्यांकन समिति (ईएसी) ने परियोजना की सिफारिश की है. 45 हेक्टेयर भूमि पर निर्मित मुंद्रा में मौजूदा निजी हवाई पट्टी को 522 हेक्टेयर में फैले एक वाणिज्यिक हवाई अड्डे में परिवर्तित किया जाएगा, जिसमें 747-400 विमानों के उतरने की क्षमता होगी और 2022 तक इसे चालू किया जाएगा.

 

हवाई अड्डे का संचालन मुंद्रा इंटरनेशनल एयरपोर्ट प्राइवेट लिमिटेड द्वारा किया जाएगा, जो अडानी पोर्ट्स और विशेष आर्थिक क्षेत्र लिमिटेड (APSEZ) की पूर्ण स्वामित्व वाली इकाई है. यह गुजरात के कच्छ जिले में मुंद्रा में भारत का सबसे बड़ा निजी बंदरगाह चलाता है. मौजूदा निजी हवाई पट्टी में 1,898 मीटर की लंबाई और 400 वर्गमीटर टर्मिनल सुविधा के साथ 30 मीटर की चौड़ाई वाला रनवे है.

गौतम अडानी की अगुवाई में अहमदाबाद स्थित बुनियादी ढांचा समूह ने इस साल की शुरुआत में हवाई अड्डा प्राधिकरण, अहमदाबाद, लखनऊ, जयपुर, मंगलुरु, गुवाहाटी और तिरुवनंतपुरम में भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरणों को लीज पर चलाने के लिए बोली लगाई थी. 3 जुलाई को, केंद्रीय मंत्रिमंडल ने अहमदाबाद, लखनऊ और मंगलुरु हवाई अड्डों को पट्टे पर देने के लिए अडानी एंटरप्राइजेज लिमिटेड द्वारा प्रस्तुत उच्चतम बोलियों को मंजूरी दी.

भारत में सबसे ज्यादा सर्च क्यों की जा रही है टेस्ला की ये इलेक्ट्रिक कार ?

First published: 27 July 2019, 16:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी