Home » बिज़नेस » Gautam Adani won rights to retail CNG to automobiles and piped cooking gas to households in six cities
 

गौतम अडानी ने प्राप्त किये 11 शहरों में CNG बेचने के लाइसेंस

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 August 2018, 11:57 IST

गौतम अडानी का समूह ने इलाहाबाद समेत 11 शहरों में सीएनजी बेचने के लिए लाइसेंस प्राप्त कर लिए हैं. बोली लगाने वाले 86 शहरों में से 48 के नतीजों के मुताबिक अडानी ने खुदरा सीएनजी से लेकर ऑटोमोबाइल और पाइपयुक्त खाना पकाने की गैस के लाइसेंस हासिल किये हैं. जबकि देश की सबसे बड़ी गैस वितरण (सीजीडी) बोली से बाहर हो गई.

पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस नियामक बोर्ड के अनुसार आईओसी ने चार शहरों के अधिकार जीते हैं. भारत गैस स्वामित्व वाली भारत में जीत पेट्रोलियम कार्पोरेशन लिमिटेड (बीपीसीएल) की एक इकाई भारत गैस रिसोर्सेज लिमिटेड ने छह शहरों के लिए लाइसेंस प्राप्त किये हैं. जबकि इतनी ही संख्या में टोरेंट गैस प्राइवेट लिमिटेड ने भी बोली में जीत हासिल की है. जब पिछले महीने बोली का दौर ख़त्म हुआ, आईओसी, बीपीसीएल और अडानी गैस लिमिटेड शीर्ष बोलीदाता थे.

पीएनजीआरबी के मुताबिक अडानी गैस ने गुजरात के सुरेंद्रनगर, बरवाला, नवसारी, खेड़ा और पोरबंदर जिलों के साथ-साथ ओडिशा में बालासोर के अधिकार जीते. आईओसी के साथ संयुक्त उद्यम, इंडियन ऑयल-अडानी गैस प्राइवेट लिमिटेड ने केरल में कन्नूर, बिहार में गया, बुलंदशहर और इलाहाबाद में उत्तर प्रदेश में अधिकार जीते.

आईओसी ने बिहार में औरंगाबाद, मध्य प्रदेश में रीवा और तेलंगाना में अधिकार जीते. एक बयान में पीएनजीआरबी ने कहा कि 9वीं सीजीडी बोली-प्रक्रिया दौर 86 भौगोलिक क्षेत्रों (जीएएस) के लिए शहर गैस नेटवर्क के विकास के लिए 12 अप्रैल को लॉन्च किया गया था, जिसमें 174 जिले (156 पूर्ण और 18 भाग) शामिल हैं, जो 22 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में फैले हुए हैं.

ये भी पढ़ें : अनिल अंबानी को SC ने दी राहत, कर्ज चुकाने के लिए बड़े भाई को बेच पाएंगे अपनी संपत्ति

First published: 4 August 2018, 11:54 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी