Home » बिज़नेस » Gold Price Today; Gold reaches 53,000; These are the prices in Delhi, Lucknow and Patna
 

Gold Price Today; 53,000 पर पहुंचा सोना, दिल्ली, लखनऊ और पटना में ये हैं आज के दाम

कैच ब्यूरो | Updated on: 31 July 2020, 10:57 IST

Gold Price Today : मंगलवार को भारत में सोने की कीमतें 52,700 रुपये से 53,000 रुपये तक उछल गई, जबकि चांदी 66,050 रुपये प्रति किलोग्राम से गिरकर 63,000 रुपये हो गई. देश की राजधानी नई दिल्ली में 22 और 24 कैरेट सोने की कीमत बढ़कर 51,800 रुपये और 53000 प्रति 10 ग्राम हो गई. चेन्नई में 22 और 24 कैरेट की कीमत 51,030 रुपये और 55610 प्रति 10 ग्राम हो गई. गुड रिटर्न वेबसाइट के अनुसार मुंबई में यह दर 51,100 रुपये और 52110 थी. लखनऊ में 22 और 24 कैरेट गोल्ड की कीमत 51810 और 53010 प्रति 10 ग्राम थी. पटना में यही दरें 51110 और 52110 प्रति 10 ग्राम थी.

एमसीएक्स पर अगस्त का सोना वायदा 0.40 प्रतिशत गिरकर 52,973 रुपये प्रति 10 ग्राम पर आ गया. चांदी सितंबर में 62,507 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई. एमसीएक्स ने डिलीवरी के लिए घरेलू रिफाइनरियों में रिफाइंड सोने और चांदी की सलाखों को स्वीकार करने का फैसला किया है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार वित्त मंत्रालय सोने की अवैध चोरी करने वालों के लिए एक माफी कार्यक्रम पर विचार कर रहा है, जो कर चोरी पर रोक लगाने और आयात पर अपनी निर्भरता में कटौती करने के प्रयास के तहत है.


विश्व गोल्ड काउंसिल (डब्ल्यूजीसी) के अनुसार COVID-19 के लॉकडाउन और अधिक कीमतों के कारण पिछले साल की समान अवधि की तुलना में अप्रैल-जून तिमाही के दौरान भारत में सोने की मांग अप्रैल-जून तिमाही में 70 प्रतिशत तक गिरकर 63.7 टन रह गई. 2019 की दूसरी तिमाही के दौरान देश में सोने की कुल मांग 213.2 टन थी. कीमत के लिहाज से देखें तो इस वर्ष की दूसरी तिमाही के दौरान भारत की सोने की मांग 26,600 करोड़ रुपये थी, जो कि 2019 की इसी अवधि में 62,420 करोड़ की तुलना में 57 प्रतिशत कम है.

Diesel Price ; दिल्ली को केजरीवाल का तोहफा, 8 रुपये सस्ता किया डीजल

WGC के अनुसार भारत में 2020 की दूसरी तिमाही में ज्वैलरी की कुल मांग 2019 की समान तिमाही की तुलना में 74 प्रतिशत कम हुई है. इस साल अप्रैल-जून के दौरान आभूषणों की मांग 44 टन थी, जो पिछले साल 168.6 थी. वैल्यू के हिसाब से देखें तो इस साल अप्रैल से जून में इसमें 63 प्रतिशत की गिरावट आई, जो 18,350 करोड़ थी, जबकि पिछले साल इसी अवधि में यह 49,380 करोड़ थी.

गोल्ड डिमांड 26 साल के निचले स्तर पर पहुंचने की उम्मीद, अप्रैल-जून तिमाही 70 प्रतिशत गिरी

First published: 31 July 2020, 10:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी