Home » बिज़नेस » Gold prices touch, sky decreases in India
 

गोल्ड की कीमतें छू रही हैं आसमान, भारत में डिमांड में बड़ी गिरावट

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 June 2019, 12:16 IST

भारत की ऑटो इंडस्ट्री में आयी मंदी के बाद अब गोल्ड मार्केट भी मंदी से जूझ रहा है. 2019 में भारत की सोने की मांग एक साल पहले की तुलना में 10% गिरकर तीन साल के सबसे कम स्तर पर आ सकता है. भारत चीन के बाद दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा उपभोक्ता है. गोल्ड की वैश्विक कीमतों में जोरदार बढ़ोतरी हुई है, जो इस सप्ताह की शुरुआत में 6 साल के उच्च स्तर पर पहुंच गई थी.

विश्व स्वर्ण परिषद द्वारा संकलित आंकड़ों के अनुसार, भारत की सोने की खपत 2018 में 1.5% घटकर 760.4 टन हो गई, जो 10 साल के औसत 838 टन से कम थी.स्थानीय सोने की कीमतों में मंगलवार को 60 35,960 प्रति 10 ग्राम की गिरावट दर्ज की गई, जो पिछले महीने की तुलना में 10% से अधिक है.

 

मंगलवार को लगातार छठे सत्र के लिए सोने की कीमतों में वृद्धि जारी है. मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज (MCX) में इंट्रा-डे ट्रेड में अगस्त के कॉन्ट्रैक्ट में डिलीवरी वाले सोने का भाव 1.31 प्रतिशत बढ़कर 34,893 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया. यह 34,901 रुपये के पिछले बंद स्तर के मुकाबले 34,490 रुपये पर खुला.

वैश्विक स्तर पर न्यूयॉर्क में सोना 0.53 प्रतिशत बढ़कर 1,428.05 डॉलर प्रति औंस हो गया, जो 2013 के बाद पहली बार 1,400 डॉलरपर था. दिलचस्प बात यह है कि पिछले एक सप्ताह में, सोने के लिए निवेशकों की दिलचस्पी में प्रमुख केंद्रीय बैंकों से बदलाव, मध्य पूर्व में भू-राजनीतिक स्थिति और अमेरिका और चीन के बीच चल रहे व्यापार तनाव के कारण तेजी आई।

 

First published: 26 June 2019, 12:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी