Home » बिज़नेस » Good news: Govt increased EPF interest rate to 8.80%
 

बीजेपी सरकार ने लिया यू-टर्न, ईपीएफ की ब्याज दर बढ़ायी

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:50 IST

बीजेपी सरकार ने एक बार यू-टर्न लेते हुए कर्मचारी भविष्य निधि(ईपीएफ) पर मिलने वाले ब्याज की दर को बढ़ा दिया है. कुछ दिन पहले ही केंद्र सरकार द्वारा ईपीएफ पर दी जाने वाली ब्याज दर में 0.05 फीसदी की कमी की थी. अब सरकार ने ब्याज दर को 0.10 फीसदी बढ़ा दिया गया है.

पहले ईपीएफ पर खाताधारकों को सरकार 8.75 फीसदी ब्याज देती थी. लेकिन 26 अप्रैल को वित्त मंत्रालय ने इसमें 0.05 फीसदी की कटौती कर इसे 8.70 फीसदी कर दिया था. 

पढ़ेंः पीएफ पर है पड़ी सरकार की टेढ़ी नजर, ब्याज दर घटाकर किया 8.7 फीसदी

केंद्र सरकार के इस फैसले के खिलाफ मजदूर संगठनों ने मोर्चा खोल दिया था. मजदूरों के रुख को देखते हुए श्रम मंत्रालय द्वारा पीएफ पर दी जाने वाली ब्याज दर को बढ़ाकर 8.80 फीसदी किए जाने की सिफारिश अब वित्त मंत्रालय ने मान ली है. इस नए वित्त वर्ष से कर्मचारियों को बीते वर्ष के 8.75 की जगह अब 8.80 फीसदी ब्याज मिलेगा. 

पीएफ खाताधारकों की परेशानी खत्म, निकाल सकते हैं पूरा पैसा

वहीं, बता दें कि 16 फरवरी को श्रम मंत्री बंडारू दत्तात्रेय ने सेंट्रल ट्रस्टी बोर्ड (सीबीटी) की बैठक में कर्मचारियों को 8.80 फीसदी ब्याज देने का निर्णय लेने की घोषणा की थी. उन्होंने कहा था कि हम कामगारों की भलाई के लिए प्रतिबद्ध हैं. हालांकि ईपीएफओ द्वारा ब्याज दरों को 8.95 किए जाने के लिए कहा गया था क्योंकि इसके बावजूद संगठन के खाते में 91 करोड़ रुपये अतिरिक्त बच जाते. 

लेकिन सीबीटी की बैठक में 8.80 फीसदी ब्याज देने का निर्णय लिया गया और ट्रस्ट के सदस्यों द्वारा इसका विरोध भी किया गया 

First published: 29 April 2016, 5:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी