Home » बिज़नेस » Government asks air india to put a freeze on large scale promotion and appointments
 

Jet Airways के बाद अब Air India ने दिया कर्मचारियों को झटका

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 July 2019, 14:11 IST

Jet Airways के बाद अब एयर इंडिया ने अपने कर्मचारियों को झटका दिया है. सरकार ने एयर इंडिया से कहा है कि वह वर्तमान में होने वाले सभी प्रमोशन और नियुक्तियों पर रोक लगा दे. बता दें कि पहले ही एयर इंडिया के निजीकरण की बातें चल रही हैं. इसी बीच एयर इंडिया ने सभी नियुक्ति और पदोन्नति रोकने को कहा है. यही नहीं एयर इंडिया की सभी नई फ्लाइट भी तभी शुरू होंगी जब काफी जरूरी होगी.

हिन्दुस्तान टाइम्स ऑनलाइन ने आईएएनस की रिपोर्ट के मुताबिक लिखा है कि, एक आधिकारिक सूत्र ने बताया है कि, "ये आदेश करीब एक हफ्ते बाद आया है. इसमें कहा गया है कि आगामी निजीकरण को देखते हुए कोई बड़ा कदम नहीं उठाया जाना है. इसके तहत नियुक्तियां और पदोन्नति भी रोक दी जाएंगी."

बता दें कि ये निर्देश डिपार्टमेंट ऑफ इन्वेस्टमेंट एंड पब्लिक असेट मैनेजमेंट की ओर से आया है. मोदी सरकार अब एयर इंडिया को निजी हाथों में बेचने पर काम कर रही है. इससे पहले ही सरकार ने एयर इंडिया विनिवेश पर मंत्री समूह पुनर्गठित किया है. इस समूह की अगुवाई गृह मंत्री अमित शाह करेंगे. एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस समूह से सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी को हटा दिया गया है. ये मंत्री समूह एयर इंडिया की बिक्री के तौर तरीके तय करेगा.

इस समूह में चार लोग शामिल होंगे. शाह के अलावा वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, वाणिज्य और रेल मंत्री पीयूष गोयल और नागर विमानन मंत्री हरदीप पुरी भी इस समूह का हिस्सा होंगे. बता दें कि मोदी सरकार ने अपने पहले कार्यकाल के दौरान पिछले साल एयर इंडिया की 76 फीसदी हिस्सेदारी बिक्री और एयरलाइन के प्रबंधन नियंत्रण के लिए निवेशकों से बोलियां आमंत्रित की थीं. हालांकि ये प्रक्रिया विफल हो गई थी और निवेशकों ने एयर इंडिया के अधिग्रहण के लिए बोलियां नहीं दी थीं.

एयर इंडिया के एक वरिष्ठ अधिकारी का कहना है कि, "इस बार, हमें विनिवेश पर कोई संदेह नहीं है. जिस गति से चीजें आगे बढ़ रही हैं, एयरलाइन का स्वामित्व एक निजी पार्टी को स्थानांतरित कर दिया जाएगा." बता दें कि एयर इंडिया पर कुल 58 हजार करोड़ रुपये का कर्ज है. साथ ही संचयी नुकसान 70 हजार करोड़ रुपये है. 31 मार्च, 2019 को समाप्त वित्त वर्ष में एयरलाइन को 7,600 करोड़ रुपये के नुकसान का अनुमान लगाया जा रहा है.

वेस्टर्न म्यूजिक सुनने के साथ इन चीजों का शौक रखती थीं शीला दीक्षित

First published: 21 July 2019, 14:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी