Home » बिज़नेस » Government imposes anti-dumping duty on certain steel products from China
 

भारत ने चीन से आयतित स्टील पर बढ़ाई डम्पिंग ड्यूटी, होगा इतना महंगा

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 October 2018, 15:57 IST

भारत ने चीन से आयात होने वाले स्टील की कुछ किस्मों पर पर डम्पिंग ड्यूटी बढ़ा दी है. चीनी स्टील की कुछ किस्मों पर पांच साल के लिए प्रति वर्ष 185.51 डॉलर प्रति टन की डंपिंग ड्यूटी को लगाया गया है. सरकारी अधिसूचना के मुताबिक राजस्व विभाग ने डीजीटीआर) की सिफारिशों के आधार पर यह ड्यूटी लगाई है.

जेएसडब्लू स्टील लिमिटेड, सनफ्लैग आयरन एंड स्टील कंपनी, उषा मार्टिन, गेरदाउ स्टील इंडिया, वर्धमान स्पेशल स्टील्स और जायसवाल इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने संयुक्त रूप से डीजीटीआर से पहले कुछ स्टील उत्पादों पर ड्यूटी के लिए डीजीटीआर से आवेदन किया था. अपनी एंटी-डंपिंग जांच में डीजीटीआर ने कहा कि चीन से सीधे लंबाई वाली सलाखों और मिश्र धातु इस्पात की छड़ के आयात की जांच (2016-17) के दौरान पूर्ण शर्तों में बढ़ी है.

 

अब ड्यूटी को 44.8 9 डॉलर से 185.51 डॉलर प्रति टन के दायरे में लगाया गया है. चीन से मिश्र धातु इस्पात की सीधी लंबाई सलाखों और छड़ों का आयात 2016-17 में 56,690 टन से बढ़कर 1,80,959 टन हो गया है. 2016-17 में भारत का कुल आयात 2,56,004 टन बढ़कर 2013-14 में 1,32, 9 33 टन हो गया. 2016-17 में भारत में इस स्टील की मांग भी 16,69,653 टन हो गई, जो 2013-14 में 15,14,795 टन थी.

 ये भी पढ़ें :दशहरे के मौके पर मेहरबान सरकार, पेट्रोल डीजल के दाम में मिली बड़ी राहत

First published: 19 October 2018, 15:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी