Home » बिज़नेस » Government to ask ONGC reduce the price of petrol and diesel
 

पेट्रोल-डीजल की कीमत कम करने के लिए ऐसे ONGC की मदद ले सकती है सरकार

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 June 2018, 11:16 IST

सरकार पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कटौती के लिए ईंधन सब्सिडी सहन करने के लिए सरकार के स्वामित्व वाली तेल और प्राकृतिक गैस कॉर्प (ओएनजीसी) से कह सकती है. सूत्रों की मानें तो सरकार उत्पाद शुल्क में कटौती नहीं करना चाहती है और पेट्रोल और डीजल की कीमतों को कम करने के वैकल्पिक तरीकों को देख रही है.

एक रिपोर्ट के अनुसार विकल्प के रूप में ओएनजीसी को खुदरा विक्रेताओं को सब्सिडी देने के लिए कहा जा सकता है ताकि बाजार दरों से कम कीमत पर पेट्रोल और डीजल बेचा जा सकें. ऑयल प्रोड्यूसर ओएनजीसी और ऑयल इंडिया लिमिटेड ने जून 2015 तक अंडर रिकवरीज के 40 प्रतिशत या नीचे बाजार मूल्य पर ईंधन बेचने से उत्पन्न सब्सिडी के मुकाबले अच्छा प्रदर्शन किया था.

सूत्रों ने कहा कि सब्सिडी साझा करने पर फैसला करने के लिए बैठक के बाद घोषणा कल की जा सकती है. ओएनजीसी के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक शशि शंकर ने बैठक से पहले कहा कि कंपनी को सब्सिडी को लेकर सरकार से अभी कोई निर्देश नहीं मिला है.

ओएनजीसी ने बुधवार को वित्तीय वर्ष में अपना लाभ 19945 करोड़ रुपये बताया. जनवरी-मार्च की अवधि में कंपनी का लाभ 35% बढ़कर 5,915 करोड़ रुपये हो गया, जो 17 तिमाहियों में सबसे ज्यादा था.

इसके विपरीत देश के सबसे बड़े रिफाइनर और ईंधन खुदरा विक्रेता इंडियनऑयल ने पिछले हफ्ते 2017-18 में 21,346 करोड़ रुपये का रिकॉर्ड लाभ दर्ज किया था, जो 2016-17 में 19,106 करोड़ रुपये से 12% की वृद्धि दर्शाता है.

ये भी पढ़ें : 80 करोड़ के घोटाले में ONGC के 13 अधिकारी CBI के शिकंजे में

First published: 1 June 2018, 11:16 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी