Home » बिज़नेस » Govt plans special NRI deposit scheme to boost dollar inflows
 

गिरते रुपये के असर से बचने के लिए सरकार कर रही है इस योजना पर काम

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 October 2018, 14:22 IST

प्रवासी भारतीयों के लिए डॉलर के प्रवाह को बढ़ावा देने के लिए भारत स्पेशल डिपॉजिट स्कीम पर विचार कर रहा है. समाचार एजेंसी न्यूजराइज ने बुधवार को एक वित्त मंत्रालय के एक अधिकारी का हवाला देते हुए यह बात कही है. आर्थिक मामलों के सचिव सुभाष चंद्र गर्ग ने जून में कहा था कि अगर सरकार को एफसीएनआर जमा, सॉवरेन बांड या विदेशी मुद्रा भंडार बढ़ाने के लिए अन्य मार्गों के माध्यम से धन जुटाने की जरूरत है. बुधवार को शुरुआती कारोबार में रुपया 73.4050 डॉलर प्रति डॉलर पर पहुंच गया, जो कि अभी तक की सबसे रिकॉर्ड गिरावट है.

सोमवार को रुपया 72.91 के करीब 0.45% से नीचे था. बुधवार को रुपया 73.25 डॉलर प्रति डॉलर पर खुला और 73.34 के नए निचले स्तर को छुआ. मंगलवार को गांधी जयंती के कारण बाजार बंद थे.

 

व्यापारी चिंतित थे कि अमेरिकी ब्याज दरों और तेल की कीमतों में वृद्धि से राजकोषीय गिरावट हो सकती है, मुद्रास्फीति दबाव बढ़ सकता है और भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की इस मौद्रिक नीति समीक्षा में ब्याज दरों में वृद्धि की संभावना बढ़ सकती है. अमेरिकी प्रतिबंधों के चलते ईरान से तेल निर्यात में अपेक्षित कमी, वेनेज़ुएला के उत्पादन में लगातार गिरावट के चलते वैश्विक तेल बाजार में संकट की संभावना है.

कोटक इकोनॉमिक रिसर्च में कहा गया है, "कच्चे तेल की की कीमतों में बढ़ोतरी होने की संभावना है. अखबार मिंट की एक रिपोर्ट के अनुसार 15 अर्थशास्त्रियों में से 14 उम्मीद करते हैं कि आरबीआई रेपो दर बढ़ाने के लिए, जिस दर पर यह वाणिज्यिक बैंकों को उधार देता है, वह 6.75% हो. बेंचमार्क सेंसेक्स बुधवार को 0.36% बढ़कर 36,656.91 अंक पर पहुंच गया. साल-दर-साल यह 7.25% बढ़ गया है.

ये भी पढ़ें :पहली बार डॉलर के मुकाबले रुपया लुढ़का 73 तक, क्रूड पहुंचा 85 डॉलर के पार

First published: 3 October 2018, 14:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी