Home » बिज़नेस » GST rates : Now, 35 goods remain in highest tax slab of GST
 

वो 35 आइटम्स जिनपर सरकार अभी भी लगा रही है 28 फीसदी GST

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 July 2018, 17:19 IST

जीएसटी काउंसिल ने पिछले एक साल में 191 सामानों पर टैक्स कटौती करके 28 फीसदी स्लैब को हटा दिया. जिसमें हाई टैक्स ब्रैकेट में एसी, डिजिटल कैमरा, वीडियो रिकॉर्डर, डिशवॉशिंग मशीन और ऑटोमोबाइल समेत केवल 35 आइटम छोड़ दिए गए. 28 फीसदी की श्रेणी में एक जुलाई को जीएसटी लागू होने के वक़्त लगभग 226 सामान थे. पिछले एक साल केंद्रीय वित्तमंत्री और राज्य मंत्रियों की अध्यक्षता में परिषद ने 191 वस्तुओं में दरों में कटौती की.

27 जुलाई से नई जीएसटी दरों को लागू करने के बाद 35 सामान, जो उच्चतम स्लैब में छोड़े जाएंगे, इसमें सीमेंट, ऑटोमोबाइल पार्ट्स, टायर्स, ऑटोमोबाइल उपकरण, मोटर वाहन भी शामिल हैं. जिनमे नौकाओं, एयरक्राफ्ट, वाष्पित पेय, सट्टेबाजी और तंबाकू, सिगरेट और पैन मसाला जैसे डेमेटिट आइटम शामिल हैं.

 

विशेषज्ञों ने कहा कि राजस्व स्थिर होने के रूप में आगे बढ़ने के बाद काउंसिल 28% स्लैब के आगे तर्कसंगतता को देख सकती है, ताकि उच्च लक्जरी के लिए उच्चतम टैक्स स्लैब को सीमित किया जा सके.

एक रिपोर्ट के अनुसार डेलोइट इंडिया पार्टनर एमएस मनी ने कहा कि यह उम्मीद करने के लिए तर्कसंगत होगा कि हाल ही में कमी के बाद जीएसटी संग्रह स्थिर हो जाने के बाद, सभी आकारों, डिशवॉशर, डिजिटल कैमरे, एयर कंडीशनर के टीवी जैसे शेष आइटम 18% की दर के लिए विचार किए जा सकते हैं.

मनी ने कहा, "यह आदर्श होगा यदि केवल डेमरीट सामान 28% स्लैब में बनाए रखा जाता है ताकि कम जीएसटी स्लैब होने की दिशा में क्रमिक अभियान शुरू किया जा सके." एक अधिकारी ने कहा कि 21 जुलाई को जीएसटी परिषद द्वारा दरों में कटौती के नवीनतम दौर के बाद, 28 फीसदी कर स्लैब में केवल 35 आइटम शेष हैं.

परिषद ने वैक्यूम क्लीनर, वाशिंग मशीनिंग, 68 सेमी (27 इंच) टीवी, फ्रिज, कपड़े धोने की मशीन, पेंट और वार्निश सहित 15 वस्तुओं पर 28 फीसदी से कर दरें घटाकर 18 फीसदी कर दी हैं. अधिकारी ने कहा, "दरों में कटौती से 6,000 करोड़ रुपये का राजस्व नुकसान होगा.

First published: 22 July 2018, 17:15 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी