Home » बिज़नेस » HAL Records Highest-Ever Turnover Amid Questions Over Its Capability
 

HAL की उत्पादन क्षमता पर रक्षा मंत्री के सवालों का कंपनी ने ऐसे दिया जवाब

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 September 2018, 12:19 IST

राफेल विवाद के बीच रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) की उत्पादन क्षमता पर सवाल उठाने के कुछ दिन बाद कंपनी ने अपने उच्चतम कारोबार की घोषणा की है. कंपनी का कहना है कि उसका वित्त वर्ष 2017-18 में टर्नओवर 18,28,386 लाख रुपये रहा, जो अभी तक सबसे ज्यादा है. जबकि पिछले वर्ष यह 17,60,379 लाख था.

कंपनी का कहना है कि उसने 40 विमानों और हेलीकाप्टरों, एसयू -30 एमकेआई सहित एलसीए तेजस और डोर्नियर डो-228 एएलएच ध्रुव का उत्पादन किया है. इसके अलावा कंपनी ने अपने कहा कि उसने 105 नए इंजन बनाए हैं. जबकि 220 विमान / हेलीकॉप्टरों और 550 इंजनों को ओवरहाल किया है और इस अवधि के दौरान अंतरिक्ष कार्यक्रमों के लिए 146 नए एयरो-स्ट्रक्चर तैयार किए गए हैं.

 

शुक्रवार को बेंगलुरू में नए एचएएल मैनेजमेंट एकेडमी (एचएमए) परिसर में अपनी लिस्टिंग के बाद शेयरधारकों की एचएएल की 55वीं वार्षिक जनरल बॉडी मीटिंग के दौरान यह खुलासा किया गया. रक्षा मंत्री ने कहा था कि यूपीए शासन के तहत 126 राफेल सौदे के फेल होने का कारण एक भी था कि एचएएल के पास उत्पादन क्षमता नहीं थी.

एचएएल के नए अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक आर माधवन ने शेयरधारकों को अपने संबोधन में वर्ष 2017-18 के प्रदर्शन को पेश किया. साथ ही उन्होंने कंपनी की भविष्य की योजनाओं पर चर्चा की.

ये भी पढ़ें : बुलेट ट्रेन : फंडिंग रोकने की ख़बरों के बीच जापान ने जारी की 5,500 करोड़ की पहली किस्त

First published: 29 September 2018, 12:15 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी