Home » बिज़नेस » Hero, Bajaj, TVS strongly object Niti Aayog's move for all electric two-wheelers
 

NITI आयोग के इस कदम से क्यों डरी हुई हैं, हीरो, बजाज और TVS जैसी दिग्गज कंपनियां

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 June 2019, 12:10 IST

भारत के बड़े तीन दोपहिया वाहन निर्माता हीरो मोटोकॉर्प, बजाज ऑटो और टीवीएस मोटर कंपनी ने सोमवार को 100 फीसदी इलेक्ट्रिक वाहन को आगे बढ़ाने की NITI आयोग की योजना का विरोध करते हुए कहा है कि इससे उद्योग को नुकसान पहुंचेगा. साथ ही यह तर्क दिया है कि पारंपरिक दोपहिया वाहनों से 100 फीसदी इलेक्ट्रिक में बदलना सही नहीं है. हीरो मोटोकॉर्प ने कहा कि वह ICE द्वारा संचालित 150cc तक के दोपहिया वाहनों पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाने के Niti Aayog के फैसले से चिंतित हैं.

पिछले हफ्ते, Niti Aayog ने ऑटो इंडस्ट्री बॉडी सोसाइटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चरर्स (SIAM) से पारंपरिक दो-और तीन-पहिया निर्माताओं के साथ दो सप्ताह के भीतर सुझाव देने के लिए कहा था. हीरो मोटोकॉर्प ने कहा कि नीती अयोग का यह कदम उस समय हो रहा है जब भारत में निर्मित दोपहिया वाहनों में दुनिया का सबसे स्वच्छ ईंधन के साथ-साथ दुनिया की सबसे अधिक ईंधन-क्षमता, 1 अप्रैल, 2020 प्रभावी" होगा.


हीरो ने कहा कि मोटर वाहन उद्योग लाखों लोगों को रोजगार प्रदान करता है और देश के सकल घरेलू उत्पाद में महत्वपूर्ण योगदानकर्ता है. एक अचानक और अचानक बदलाव से विक्रेताओं, ओईएम, डीलरों, स्पेयर पार्ट्स निर्माताओं और यांत्रिकी, साथ ही अन्य हितधारकों की पूरी इको-प्रणाली बाधित हो जाएगी, जिससे उद्योग पर निर्भर लाखों लोगों की आजीविका प्रभावित होती है." हीरो मोटोकॉर्प ने सरकार और संबंधित अधिकारियों से अपील करते हुए कि "उनके दृष्टिकोण से सतर्क रहें और सभी हितधारकों की चिंताओं को ध्यान में रखें".

अमेरिकी विदेश मंत्री की भारत यात्रा से पहले चीन की Huawei ने भारत को दिया बड़ा ऑफर

First published: 25 June 2019, 12:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी