Home » बिज़नेस » Housing sales in Noida, Greater Noida rise 51% in Q2, dip 52% in Gurgaon: PropTiger
 

नोएडा- ग्रेटर नोएडा में जमकर बिक रहे फ्लैट, गुड़गांव में आयी 52 फीसदी की गिरावट

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 July 2018, 14:23 IST

नोएडा और ग्रेटर नोएडा में आवास की बिक्री अप्रैल-जून की अवधि के दौरान 51% बढ़कर 5,715 इकाई हो गई, लेकिन न्यूज कॉर्प समर्थित रियल एस्टेट पोर्टल प्रोपिगर के मुताबिक गुड़गांव में आधे से ज्यादा की गिरावट आई है. कुल मिलाकर अप्रैल-जून 2018 के दौरान शीर्ष नौ शहरों में आवास की बिक्री 2% घटकर 61,639 इकाई हो गई, जो पिछले साल की समान अवधि में 63,166 इकाई थी, पोर्टल ने अप्रैल-जून 2018 के लिए अपनी नवीनतम 'रियल्टी डीकोडेड रिपोर्ट' में कहा था.

2018 कैलेंडर वर्ष की दूसरी तिमाही के दौरान इसी अवधि में 52,218 इकाइयों की तुलना में नए घरों की शुरूआत 20% घटकर 41,839 इकाई हो गई. शीर्ष नौ शहरों में मुंबई, पुणे, नोएडा, गुड़गांव, बेंगलुरु, चेन्नई, हैदराबाद, कोलकाता और अहमदाबाद में बेची गई इकाइयां सालाना 9% घटकर 7,57,000 इकाई हो गई हैं.

 

सिंगापुर स्थित इलाारा टेक्नोलॉजीज का हिस्सा है जो सिंगापुर स्थित इलाारा टेक्नोलॉजीज का हिस्सा है, जो हाउसिंग के मालिक हैं, प्रोपटीगर डॉट कॉम के मुख्य निवेश अधिकारी अंकुर धवन ने कहा, "यह अचल संपत्ति क्षेत्र के लिए एक सभ्य तिमाही थी और संख्याएं बताती हैं कि बाजार अच्छे के लिए बदल रहा है."

वह उम्मीद करते हैं कि दोनों नए लॉन्च और बिक्री अगले दो तिमाहियों में सुधार के साथ-साथ नियामक आधारभूत संरचना के स्थिरीकरण से प्रेरित सुधार में सुधार दिखाएंगे. धवन ने कहा, "मुंबई, पुणे, बेंगलुरु और नोएडा ने पिछले तिमाही में काफी सुधार दिखाया है और हम उम्मीद करते हैं कि 2018 में इन शहरों को स्टार मार्केट बनने की उम्मीद है."

प्रोपटीगर के मुताबिक गुड़गांव (भिवडी, धारुहेरा और सोहना समेत) में आवास की बिक्री 52% गिर गई, जिसे प्राथमिक रूप से किफायती आवास इकाइयों के नए लॉन्च में गिरावट के लिए जिम्मेदार ठहराया जा सकता है. बिक्री पर रिपोर्ट में कहा गया है कि जनवरी-मार्च की अवधि में एक शानदार प्रदर्शन के बाद रियल एस्टेट डेवलपर्स ने 2018 कैलेंडर वर्ष की दूसरी तिमाही में विपणन और बिक्री के प्रयासों में समान आक्रामकता नहीं दिखायी.

ज्यादातर डेवलपर्स आगामी त्यौहारों के लिए अपने मार्केटिंग बजट को बचा रहे हैं. आंकड़ों के मुताबिक अहमदाबाद में आवास की बिक्री में 51% से 2,014 इकाइयां गिर गईं, जबकि बेंगलुरु में 1% की गिरावट के साथ 8,253 इकाइयां गिर गईं. चेन्नई में 4,384 इकाइयों की बिक्री में 11% की गिरावट दर्ज की गई.

हैदराबाद में 23% की गिरावट आई और 4919 इकाइयां देखी गईं. कोलकाता में आवास की बिक्री 30% घटकर 2,718 इकाई हो गई. हालांकि अप्रैल-जून 2018 के दौरान मुंबई में बिक्री 15% बढ़कर 21,827 इकाई हो गई, जो पिछले साल की समान अवधि में 18,987 इकाई थी. जबकि पुणे में 9% से 10,60 9 इकाइयों की वृद्धि देखी गई.

ये भी पढ़ें ; भारत समेत एशिया की इन 10 अर्थव्यवस्थाओं में अमेरिका की GDP को पछाड़ने की क्षमता है

First published: 22 July 2018, 14:05 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी