Home » बिज़नेस » How to open SBI zero balance savings account
 

SBI में ऐसे खोलें जीरो बैलेंस खाता, पड़ेगी सिर्फ इन दस्तावेजों की जरूरत

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 November 2018, 13:47 IST

 

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) बेसिक सेविंग्स बैंक डिपॉजिट (बीएसबीडी) खाता अब आप जीरो बैलेंस पर खाता खोल सकते हैं. एसबीआई बेसिक सेविंग्स बैंक जमा खाते को जीरो बैलेंस के साथ किसी भी यक्ति द्वारा खोला जा सकता है. बशर्ते आपके ग्राहक (केवाईसी) दस्तावेज मान्य होने चाहिए. एसबीआई का जीरो बैलेंस खाता मुख्य रूप से समाज के गरीब वर्गों के लिए है, ताकि उन्हें शुल्क या फीस के बिना किसी भी बोझ के बचत के लिए प्रोत्साहित किया जा सके. एसबीआई के जीरो बैलेंस खाते की जानकारी इस तरह है.

 

1. एसबीआई शून्य बैलेंस बचत खाता केवल एक बार संयुक्त रूप से भी खोला जा सकता है.

2. जीरो बैलेंस खाता खोलने के लिए आपको केवाईसी की आवश्यकता होगी.

3. खाते को बनाए रखने के लिए न्यूनतम शेष राशि शून्य है

4. एसबीआई जीरो बैलेंस बचत खाता या एसबीआई मूल बचत बैंक जमा (बीएसबीडी) खाता किसी अन्य बचत बैंक खाते पर लागू ब्याज की समान दर प्रदान करता है.

5. एसबीआई जीरो शेष बचत खाते के लिए रुपे एटीएम-सह-डेबिट कार्ड निःशुल्क जारी किया जाएगा और कोई वार्षिक रखरखाव शुल्क लागू नहीं किया जाएगा.


6. एसबीआई निष्क्रिय शून्य शेष खातों को एक्टिवेट करने के लिए कोई शुल्क नहीं लेता है.

7. ग्राहक के पास अगर एसबीआई शून्य बैलेंस बचत खाता है तो अन्य बचत बैंक खाता लागू नहीं होगा. यदि ग्राहक के पास कोई अन्य बचत खाता है, तो उसे मूल बचत बैंक जमा खाता या शून्य शेष राशि खाता खोलने के 30 दिनों के भीतर बंद करना होगा.

8. एसबीआई की वेबसाइट के अनुसार एक महीने में शून्य शेष राशि में अधिकतम चार निकासी की अनुमति है, जिसमें एटीएम निकासी स्वयं और अन्य बैंक के एटीएम और आरटीजीएस / एनईएफटी / शाखा नकदी निकासी / हस्तांतरण / इंटरनेट डेबिट / स्थायी निर्देश / ईएमआई, आदि। महीने के दौरान कोई और ग्राहक डेबिट की अनुमति नहीं है.

First published: 20 November 2018, 13:47 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी