Home » बिज़नेस » Huawei files lawsuit against US government
 

चीन की दिग्गज मोबाइल कंपनी Huawei ने अमेरिकी सरकार पर ठोका मुकदमा

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 March 2019, 11:08 IST

चीन की दिग्गज मोबाइल कंपनी हुआवेई ने गुरुवार को कहा कि उसने अमेरिकी सरकार के खिलाफ मुकदमा दायर किया है, जो एक ऐसे कानून को चुनौती देता है जो संघीय एजेंसियों को कंपनी के उत्पादों को खरीदने से प्रतिबंधित करता है. कंपनी ने कहा कि उसने टेक्सास में मुकदमा दायर किया है, जहां उसका अमेरिकी मुख्यालय स्थित है.

सीएनएन के अनुसार यह एक अमेरिकी संघीय अदालत ने राष्ट्रीय रक्षा प्राधिकरण अधिनियम में एक प्रावधान के एक हिस्से को पलटने के लिए कहा, जिस पर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने पिछले अगस्त में हस्ताक्षर किए थे. हुआवेई का आरोप है कि कानून का एक हिस्सा बिना किसी सजा के किसी व्यक्ति या समूह को सजा देकर अमेरिकी संविधान का उल्लंघन करता है.

 

हुआवेई के डिप्टी चेयरमैन गुओ पिंग ने मीडिया को बताया "यह प्रतिबंध न केवल गैरकानूनी है, बल्कि Huawei को निष्पक्ष प्रतिस्पर्धा में उलझाने से रोकता है, अंततः अमेरिकी उपभोक्ताओं को नुकसान पहुंचाता है,"
कानून विशेष रूप से हुआवेई और उसके छोटे चीनी प्रतिद्वंद्वी, जेडटीई से प्रौद्योगिकी का उपयोग करने से सरकारी एजेंसियों को मना करता है. "अमेरिकी कांग्रेस बार-बार Huawei उत्पादों पर अपने प्रतिबंधों का समर्थन करने के लिए किसी भी सबूत का उत्पादन करने में विफल रही है."

उन्होंने कहा "हम इस कानूनी कार्रवाई को एक उचित और अंतिम उपाय के रूप में करने के लिए मजबूर हैं." गुरुवार की घोषणा के बाद कनाडाई अदालत ने बुधवार को फैसला सुनाया कि हुआवेई के मुख्य वित्तीय अधिकारी मेंग वानझोउ की प्रारंभिक प्रत्यर्पण सुनवाई 8 मई को होगी. मेंग अमेरिका में धोखाधड़ी के आरोपों का सामना कर रहे हैं.

यह मुकदमा हुआवेई का सबसे आक्रामक कदम माना जा रहा है. हुआवेई चीन की सबसे बड़ी टेक फर्मों में से एक है और सुपर फास्ट 5 जी वायरलेस नेटवर्क के वैश्विक रोलआउट में एक प्रमुख खिलाड़ी है. इसके स्मार्टफोन Apple और सैमसंग के साथ वैश्विक स्तर पर प्रतिस्पर्धा करते हैं.

अनिल अंबानी वक्त पर नहीं चुका पाए स्पेक्ट्रम की रकम, Voda-Idea, एयरटेल, जियो ने चुकाए 6,000 करोड़

First published: 7 March 2019, 11:08 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी