Home » बिज़नेस » ICSID, a World Bank Tribunal fined Pakistan by 6 billion dollar, Pakistani economy may claps
 

पाकिस्तान पर टूटा मुसीबतों का पहाड़, वर्ल्ड बैंक ने लगाया 6 अरब डॉलर का जुर्माना

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 July 2019, 19:09 IST

पहले से ही मुश्किलों का सामना कर रहे पाकिस्तान पर मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा. पाकिस्तान अपने सबसे बुरे आर्थिक दौर से गुजर रहा है महंगाई से जनता बेहाल है. आम पाकिस्तानी दूध और शब्जी के लिए तरस रहा है. अब विश्व बैंक से संबद्ध न्यायाधिकरण इंटरनेशनल सेंटर फार सेटलमेंट ऑफ इन्वेस्टमेंट डिस्प्यूट्स (ICSID) ने पाकिस्तान पर पांच अरब 97 करोड़ डॉलर का जुर्माना ठोका है. अगर पाकिस्तान इतनी बड़ी राशि हर्जाने के रूप में भरता है तो उसकी रही-सही अर्थव्यवस्था भी छिन्न-भिन्न ही जाएगी और पाकिस्तानी आवाम दाने-दाने को तरसेगा.

 Tiktok देश की सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा, चीन भेजा जा रहा है डाटा: शशि थरूर

पांच अरब 97 करोड़ डॉलर जुर्माना 

ICSID ने बलूचिस्तान प्रांत स्थिति रेको डिक खदान सौदे को रद्द करने पर पाकिस्तान पर पांच अरब 97 करोड़ डॉलर का जुर्माना लगाया है. इस राशि में 4.08 अरब डॉलर हर्जाना और 1.87 अरब डॉलर ब्याज है. यह जुर्माना टेथयान कॉपर कंपनी (TCC) को पाकिस्तान देगा. पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक प्रधानमंत्री इमरान खान ने यह जानने के लिए आयोग का गठन किया है कि नौबत यहां तक कैसे पहुंची. पाकिस्तान की सरकार ने कहा है कि वह इस फैसले के खिलाफ ICSID समेत अन्य संबंधित अंतर्राष्ट्रीय न्यायिक मंचों पर अपील करेगी.

सबसे बड़ा जुर्माना

आईसीएसआईडी के इतिहास में पाकिस्तान पर लगाया गया यह जुर्माना सर्वाधिक अर्थदंड में से एक है. टीसीसी ने पाकिस्तान स्थित बलूचिस्तान में रेको डिक में बड़े पैमाने पर सोने और तांबे की खानों का पता लगाया था. कंपनी के मुताबिक वह इस प्रोजेक्ट पर करीब 22 करोड़ डॉलर खर्च कर चुकी थी कि अचानक 2011 में पाकिस्तान सरकार ने उसके खनन के लिए पट्टे को देने से मना कर दिया.

First published: 14 July 2019, 19:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी