Home » बिज़नेस » Income tax department confiscated 6900 crore benami property
 

कई करोड़पतियों पर पर चला आयकर विभाग का डंडा, 6900 करोड़ रुपये की बेनामी संपत्ति जब्त

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 January 2019, 15:42 IST

आयकर विभाग ने करीब 7 हजार करोड़ रुपये की बेनामी संपत्ति जब्त की है. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने कहा है कि उसने बेनामी लेनदेन (निषेध) कानून के तहत अब तक 6,900 करोड़ रूपये वैल्यू की संपत्ति कुर्क की है. आयकर विभाग ने अखबारों में विज्ञापन प्रकाशित कर इसकी जानकारी दी है, इसमें कहा गया है कि जो लोग बेनामी खरीद-बिक्री करते हैं, बेनामीदार (जिसके नाम पर बेनामी संपत्ति है) तथा लाभार्थी (जो इसके लिए पैसा देते हैं-संपत्ति का असली मालिक) दोनों पर FIR दर्ज कर मुकदका चलाने का प्रावधान है और उन्हें सात साल तक की सजा हो सकती है.

आयकर विभाग ने आगे बता है कि इसके अलावा उन्हें बेनामी संपत्ति के बाजार मूल्य पर 25 प्रतिशत तक जुर्माना भी देना पड़ सकता है. विज्ञापन में कहा गया है कि इनकम टैक्स डिपार्टमेंट पहले ही 6,900 करोड़ रुपए से अधिक की बेनामी संपत्तियां जब्त कर चुका है. अलावा इसमें जानकारी दी गई है कि है कि जो लोग बेनामी लेनदेन (निषेध) कानून के तहत अधिकारियों को गलत सूचना देते हैं, उन्हें पांच साल की सजा तथा बेनामी संपत्ति के उचित बाजार मूल्य का दस प्रतिशत तक जुर्माना अदा करना पड़ सकता है.

आयकर विभाग द्वारा जारी इस विज्ञप्ति का लक्ष्य है की लोगों में बेनामी संपत्ति के खिलाफ जागरूकता फैलाना ताकि वे इस बुराई को खत्म करने में सहयोग करें और इसमें खुद कभी न संलिप्त हों. आयकर विभाग ने लोगों से अपील की है कि वे इस बुराई को समाप्त करने में सरकार का सहयोग करें. नए कानून के तहत कार्रवाई आयकर कानून, 1961 के अलावा की जाएगी.

अवैध तरीके करोड़ों-अरबों रूपये कमाकर अपनी संपत्ति छुपाने और टैक्स बचाने के लिए अपने नौकर या दूसरे लोगों के नाम पर प्रॉपर्टी खरीद लेतें हैं. लेकिन नया कानून आने के बाद इन अरबपतियों पर कड़ी करवाई की जा रही है.

First published: 29 January 2019, 15:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी