Home » बिज़नेस » income tax seized in millions of black money from privet firm in Delhi
 

प्राइवेट कंपनी के लॉकर में मिला करोड़ों का कालाधन, मालिकों का पता नहीं

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 January 2018, 13:23 IST

इनकम टैक्स विभाग ने दिल्ली के साउथ एक्सटेंशन पार्ट वन में एक बड़ी छपेमारी की है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार कंपनी 'यू एंड आई वोल्ट्स' के दफ़्तर पर इनकम टैक्स अधिकारियों ने छापेमारी की है. NDTV की रिपोर्ट के अनुसार छापेमारी में अब तक 61 करोड़ से ज़्यादा की रक़म और गहने लॉकरों से बरामद हुए हैं.

रकम बिल्डरों और गुटखा व्यापारियों की 

सूत्रों का कहना है कि प्राइवेट कंपनी यू एंड आई वोल्ट्स आधा दर्जन से ज़्यादा लॉकरों की तलाशी ली गई. तिजोरियों से आभूषण और नकदी जब्त की गयी, जिसका मूल्य 20 करोड़ रुपये से अधिक बताया जा रहा है. छापेमारी में अब तक कुल 61 करोड़ से अधिक के कथित कालेधन के बरामद होने की खबर है.

नोटबंदी के बाद  टैक्स चोरी में इजाफा 

आंकड़ों की माने तो नोटबंदी के बाद इनकम टैक्स चोरी के मामलों में इजाफा हुआ है. आयकर विभाग ने चालू वित्त वर्ष में अप्रैल से नवंबर के दौरान कर चोरी करने वालों के खिलाफ 2225 मामले दर्ज किए हैं जो पिछले साल समान अवधि के मुकाबले 184 प्रतिशत अधिक हैं.

इतना ही नहीं इस अवधि में आयकर कानून के तहत 48 व्यक्तियों को दोषी करार दिया गया है गया है जबकि पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में यह आंकड़ा मात्र 13 था.  वित्त मंत्रलय ने कहा कि आयकर विभाग की ओर से कर चोरों के खिलाफ की गयी निर्णायक कार्रवाई के चलते अदालत ने डिफॉल्टरों को दोषी करार दिया है और मुकदमे भी अधिक दर्ज हुए हैं.

मंत्रालय ने कहा कि वित्त वर्ष 2017-18 में नवंबर तक आयकर विभाग ने आयकर कानून के तहत विभिन्न अपराधों में 2225 मामले दर्ज कराए हैं.

First published: 13 January 2018, 12:51 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी