Home » बिज़नेस » India among 10 Asian economies to beat US in terms of GDP by 2030, says DBS report
 

भारत समेत एशिया की इन 10 अर्थव्यवस्थाओं में अमेरिका की GDP को पछाड़ने की क्षमता है

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 July 2018, 11:26 IST

डीबीएस की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत समेत एशिया की 10 प्रमुख अर्थव्यवस्थाएं 2030 तक अमेरिका की जीडीपी को पीछे करने की क्षमता रखती है. रिपोर्ट में कहा गया है कि ये अर्थव्यवस्थाएं 28 ट्रिलियन अमरीकी डॉलर से अधिक मजबूत वृद्धि कर सकती हैं. डीबीएस के मुताबिक एशिया की 10 अर्थव्यवस्थाएं चीन, हांगकांग, भारत, इंडोनेशिया, मलेशिया, फिलीपींस, सिंगापुर, दक्षिण कोरिया, ताइवान और थाईलैंड ये कर सकती हैं.

2030 तक एशिया की 10 अर्थव्यवस्था इतनी मजबूत हो जाएगी कि कुल सकल घरेलू उत्पाद में कुल 28.35 ट्रिलियन अमरीकी डालर की वृद्धि होगी. जबकि संयुक्त राज्य अमेरिका के लिए 22.33 ट्रिलियन अमरीकी डालर होगी. डीबीएस ने कहा, "हम एशिया -10 को 2030 तक अमेरिका से आगे बढ़ने की उम्मीद करते हैं लेकिन एशिया निवेश करने के लिए पर्याप्त नहीं है क्योंकि निवेश एक संकेतक पर आधारित नहीं हो सकता है.

वैश्विक वित्तीय सेवाओं के प्रमुख के मुताबिक, एशिया का उज्ज्वल आर्थिक भविष्य है, हालांकि सभी एशियाई अर्थव्यवस्थाओं में कुछ आम मुद्दों का सामना करना पड़ता है  जैसे जलवायु परिवर्तन, बढ़ती असमानता, व्यापार के लिए खराब वातावरण और तकनीकी व्यवधान. डीबीएस ने एक शोध पत्र में कहा, हाल के दशकों में एशियाई अर्थव्यवस्थाओं के आर्थिक विकास का समर्थन करने वाली गतिशीलता कमजोर हैं और अंतरराष्ट्रीय पर्यावरण में कई बदलाव हुए हैं. रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि जनसांख्यिकीय लाभांश जो कि कई एशियाई देशों को अतीत में लाभान्वित हुआ है, अब उतना मूल्यवान नहीं हो सकता है.

रिपोर्ट के अनुसार नौकरी पैदा करने के मामले में एक युवा आबादी एक चुनौती पैदा करती है. जिसकी अनुपस्थिति बेरोजगारी को बढ़ाएगी. दोनों आर्थिक और सामाजिक / राजनीतिक चुनौती पैदा करेंगे. भारत और फिलीपींस जैसे देशों को अपनी युवा आबादी के लिए रोजगार पैदा करने के लिए कड़ी मेहनत करने की आवश्यकता होगी. रिपोर्ट में कहा गया है कि सिंगापुर, जापान और चीन जैसे बुजुर्ग देश नई तकनीक के सक्रिय उपयोग के माध्यम से जनसांख्यिकीय ड्रैग को ऑफसेट करने में सक्षम हो सकते हैं.

ये भी पढ़ें :आम आदमी को बड़ी राहत, पेट्रोल-डीजल के दाम में भारी कटौती

First published: 22 July 2018, 11:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी