Home » बिज़नेस » India could be the first country to test Facebook's digital currency: Report
 

Facebook की क्रिप्टोकरेंसी इस्तेमाल करने वाला पहला देश बन सकता है भारत

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 May 2019, 14:05 IST

फेसबुक इंक के जल्द क्रिप्टोकरेंसी लांच कर सकता है. जिसे लागू करने वाला भारत पहला देश पहला देश बन सकता है. ब्लूमबर्ग के अनुसार जिसकी घोषणा अगली तिमाही में की जा सकती है. पिछली मई में लॉन्च हुई फेसबुक की ब्लॉकचेन यूनिट अब 50 कर्मचारियों की गिनती करती है.
फेसबुक के अंदरूनी सूत्रों के अनुसार ब्लॉकचैन समूह एक स्थिर मुद्रा विकसित कर रहा है, जो एक प्रकार की डिजिटल मुद्रा है.

कहा गया है कि नई मुद्रा का परीक्षण करने वाला पहला देश भारत हो सकता है. कंपनी पहले ही व्हाट्सएप पे नाम के उत्पाद के माध्यम से देश में नियमित भुगतान का परीक्षण कर रही है. फेसबुक के डेवलपर सम्मेलन में मार्क जुकरबर्ग ने कहा था कि कंपनी जल्द ही व्हाट्सएप भुगतान को अन्य देशों में भी विस्तारित करेगी.

मार्कस ने 2014 में अपने मैसेंजर उत्पाद के प्रमुख के रूप में फेसबुक से जुड़ने के लिए PayPal को छोड़ा दिया था. वहां उन्होंने मैसेंजर पर शुरुआती विमुद्रीकरण के प्रयासों की अगुवाई की, इस सेवा को एक अलग ऐप के रूप में विकसित करने में मदद की जो अब 1 बिलियन से अधिक उपयोगकर्ताओं को गिनाती है. मार्कस जल्दी से कुछ PayPal दिग्गजों को अपने साथ नए फेसबुक ग्रुप में ले आये.

कैसी होगी नई सरकार बाजार ने दिए संकेत, रिलायंस के शेयरों में बड़ी गिरावट

फेसबुक ने हालही में कहा था कि वह जल्द हेल्थ सपोर्ट ग्रुप पेश करेगा. कंपनी का कहना है कि वह जॉब ग्रुप में नियोक्ताओं के लिए एक टेम्पलेट और एक नया चैट फीचर जोड़ेगा. फेसबुक पिछले साल डेटा लीक विवादों के कारण चर्चा में रहा था. मार्च में ज़करबर्ग ने भविष्य के लिए एक नई गोपनीयता पॉलिसी की घोषणा की थी. उन्होंने कहा, "मेरा मानना है कि हमें ऐसी दुनिया की ओर काम करना चाहिए जहां लोग निजी तौर पर बात कर सकें और यह जानकर आज़ादी से रह सकें कि उनकी जानकारी गोपनीय रहे''.

First published: 9 May 2019, 13:55 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी