Home » बिज़नेस » India drops in GDP rankings, now seventh-largest economy : World Bank data
 

भारत को 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने के सपने को लगा झटका

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 August 2019, 12:48 IST

2018 के लिए विश्व बैंक के आंकड़े की माने तो भारत की सकल घरेलू उत्पाद रैंकिंग में गिरावट आयी है.भारत अब सातवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है. ताजा आंकड़ों के अनुसार यूनाइटेड किंगडम और फ्रांस भारत से आगे निकल गए हैं. 2018 में भारत का सकल घरेलू उत्पाद 2.72 ट्रिलियन डॉलर था, जबकि यूनाइटेड किंगडम का 2.82 ट्रिलियन डॉलर और फ्रांस का 2.77 ट्रिलियन डॉलर था. 2018 में 20.5 ट्रिलियन की जीडीपी के साथ दुनिया में शीर्ष चार अर्थव्यवस्थाएं संयुक्त राज्य अमेरिका थीं, इसके बाद चीन ($ 13.6 ट्रिलियन), जापान (4.9 ट्रिलियन डॉलर) और जर्मनी (3.9 ट्रिलियन डॉलर) हैं.

2017 में भारत फ्रांस से आगे निकलकर छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के रूप में उभरा था. बिजनेस स्टैंडर्ड के अनुसार विश्व बैंक के नवीनतम जीडीपी आंकड़ों से पता चलता है कि भारत ने कुछ समय के लिए यूनाइटेड किंगडम को भी पीछे छोड़ दिया था. 2017 में भारत का सकल घरेलू उत्पाद 2.65 ट्रिलियन डॉलर था, इसके बाद यूके में 2.64 ट्रिलियन डॉलर और फ्रांस में 2.59 ट्रिलियन डॉलर था. लेकिन इसके तुरंत बाद 2018 में यूके और फ्रांस की अर्थव्यवस्थाओं का विस्तार हुआ.

 

अर्थशास्त्रियों का कहना है कि मुद्रा में उतार-चढ़ाव और वृद्धि में मंदी के कारण जीडीपी रैंकिंग में गिरावट आ सकती है. इंडिया रेटिंग्स के मुख्य अर्थशास्त्री देवेंद्र पंत ने कहा "2017 में डॉलर के मुकाबले रुपये की सराहना हुई और 2018 में डॉलर के मुकाबले यह गिरावट आई." ये आंकड़े ऐसे समय में आए हैं जब भारत ने खुद को चालू वित्त वर्ष में 3-ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था और 2024 तक 5-ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने का लक्ष्य रखा है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फरवरी में कहा था कि भारत सबसे तेजी से बढ़ती बड़ी अर्थव्यवस्था बनेगा और 2030 तक दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन सकता है. हालांकि जून में पूर्व मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यन ने एक अकादमिक पत्र प्रकाशित किया था जिसमें उन्होंने दावा किया कि 2011-12 और 2016-17 के बीच प्रति वर्ष 2.5% अंकों से भारत की वृद्धि को कम करके आंका गया, एक ऐसी अवधि जब संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन दोनों सत्ता में थे.

मई में भारत ने चीन की सबसे तेजी से बढ़ती प्रमुख अर्थव्यवस्था के अपने टैग को खो दिया था, क्योंकि सरकार ने घोषणा की थी कि वित्त वर्ष 2018-19 की अंतिम तिमाही में सकल घरेलू उत्पाद की वृद्धि दर घटकर 5.8% रह गई है. यह 17 तिमाहियों में विकास की सबसे धीमी गति थी.

VG सिद्धार्थ की मौत के बाद उठे सवाल- क्या टैक्स अधिकारी पूछताछ से पहले उत्पीड़न कर रहे हैं

First published: 2 August 2019, 11:35 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी