Home » बिज़नेस » India has scrapped a $500-million deal with Israel topurchase of Spike anti-tank missiles after DRDO suggestion
 

भारत ने इजरायल के साथ किया रक्षा सौदा रद्द, 35 हजार करोड़ रुपये की थी डील

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 June 2019, 13:12 IST

भारत ने इजरायल के साथ 500 मिलियन डॉलर (करीब 35 हजार करोड़ रुपये) का एक रक्षा सौदा रद्द कर दिया है. भारत ने इजरायल से स्पाइक एंटी-टैंक मिसाइलों को खरीदने की एक डील की थी, लेकिन डीआरडीओ के कहने पर यह डील कैंसिल कर दी गई है. स्वदेसी, ''रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन'' (DRDO) ने वादा किया है कि वह दो सालों के भीतर ठीक इसी तरह की एंटी-टैंक मिसाइल विकसित कर लेगा वो भी कम लागत पर.

रिपोर्ट्स के मुताबिक इजरायल को इस डील के रद्द किए जाने की सूचना दे दी गई है. दरअसल DRDO ने वीईएम टेक्नोलॉजी लिमिटेड के साथ मिलकर बिल्कुल वैसी ही मिसाइल बनाने का वादा किया है. डीआरडीओ ने मिसाइल को विकसित करने में इजरायल की तुलना में कम पैसे की मांग की है. ऐसे में भारत डीआरडीओ के साथ जाएगा.

अधिकारियों ने कहा कि डीआरडीओ द्वारा मैन-पोर्टेबल एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल (MPATGM) बनाने का प्रयास अंतिम दौर में है. इसका दूसरे चरण का परीक्षण सफलतापूर्वक किया जा चूका है. यह परीक्षण उसने पिछले साल सितंबर में अहमदनगर रेंज में किया था.

हालाँकि, सेना के अधिकारी डीआरडीओ द्वारा अपनी प्रस्तावित समय सीमा और परिचालन आवश्यकताओं को पूरा करने के दावे पर संदेह कर रहे थे, लेकिन रक्षा मंत्रालय ने डीआरडीओ के लिए चुना क्योंकि यह सरकार की "मेक-इन-इंडिया" पहल को पूरा करेगा. मंत्रालय ने अब समय लेने वाली आयातों पर निर्भर रहने के बजाय एक घरेलू टैंक-रोधी मिसाइल को प्राथमिकता दी है.

First published: 24 June 2019, 13:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी