Home » बिज़नेस » india in the list of highest military spending countries, two Asian countries in top 5 for the first time
 

सबसे ज्यादा सैन्य खर्च करने वाले देशों की सूची में भारत, टॉप 5 में पहली बार दो एशियाई देश

कैच ब्यूरो | Updated on: 27 April 2020, 10:39 IST

स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट (एसआईपीआरआई) ने अपने ताजा आंकड़ों में कहा है कि अमेरिका, चीन और भारत 2019 में दुनिया के टॉप पांच सबसे ज्यादा सैन्य खर्च करने वाले देश में शामिल थे. इनमें पहली बार दो एशिया के देश शामिल हैं. टॉप 5 में रूस और सऊदी अरब ने भी जगह बनाई है. कहा गया है कि इन देशों का खर्चा पूरी दुनिया के खर्च का 62 फीसदी है. कुल सैन्य खर्च 2019 में वैश्विक स्तर पर 2018 के 3.6 फीसदी बढ़कर लगभग 2 ट्रिलियन डॉलर हो गया.

एसआईपीआरआई ने अपने बयान में कहा "यह पहली बार है जब दो एशियाई देश शीर्ष तीन सैन्य खर्च करने वालों में शमिल हुए हैं. SIPRI के सीनियर रिसर्चर साइमन टी. वेज़मैन ने कहा "पाकिस्तान और चीन के साथ तनाव के चलते भारत का सैन्य खर्च बढ़ा है. बयान में कहा गया "2019 में कुल (खर्च) 2018 से 3.6 फीसदी बढ़ गया है.


कोरोना वायरस: जानिए सारी दुकान खुलने के बावजूद क्यों नहीं खुलीं शराब की दुकानें, लोग कर रहे थे बेसब्री से इंतजार

 

किसने कितना खर्च किया

2019 में वैश्विक कुल सैन्य खर्च वैश्विक सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) का 2.2 फीसदी है. जो प्रति व्यक्ति लगभग 249 डॉलर के बराबर है." एशिया में भारत और चीन टॉप पांच में शामिल हैं. 2019 में भारत का सैन्य खर्च 6.8 फीसदी बढ़कर 71.1 बिलियन डॉलर रहा. चीन का सैन्य खर्च 2019 में 5.1 फीसदी बढ़कर 261 बिलियन डॉलर तक पहुंच गया. इसी तरह अमेरिका का खर्च 2019 में 5.3 फीसदी बढ़कर 732 बिलियन डॉलर हो गया.

सऊदी अरब ने ख़त्म की नाबालिगों के लिए मौत की सजा, ये है किंग सलमान का नया फरमान

2017-18 में तत्कालीन केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भारतीय सशस्त्र बलों में विकास के लिए 2017 के केंद्रीय बजट में  359,000 करोड़ आवंटित किये थे, जो उसके पिछले वित्त वर्ष से लगभग 7 प्रतिशत  ज्यादा था. भारत ने सितंबर 2016 में फ्रांस सरकार के साथ 7.87 बिलियन यूरो में 36 नए राफेल फाइटर जेट खरीदने का सीधा सौदा किया. 

First published: 27 April 2020, 10:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी