Home » बिज़नेस » India Post Payments Bank launch today: 10 things to know
 

'इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक' से जुडी 10 बातें, जो आपको समझनी जरूरी हैं

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 September 2018, 12:41 IST

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को नई दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) लॉन्च करेंगे. इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक 1.55 लाख डाकघर शाखाओं की पहुंच का लाभ उठाकर ग्रामीण इलाकों में लोगों को बैंकिंग और वित्तीय सेवाएं प्रदान करने पर ध्यान केंद्रित करेगा. सरकार ने एक बयान में कहा, "लॉन्च के दिन आईपीपीबी की देशभर में 650 शाखाएं होंगी और 3,250 पॉइंट तक इसकी एक्सेस होगी. सरकार का उद्देश्य 31 दिसंबर 2018 तक सभी 1.55 लाख डाकघरों को भारत पोस्ट पेमेंट्स बैंक सिस्टम से जोड़ना है.

इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के बारे में ये 10 चीजें जानें

1. भारत पोस्ट पेमेंट्स बैंक की स्थापना भारत सरकार द्वारा स्वामित्व वाली 100% इक्विटी के साथ, डाक मंत्रालय, संचार मंत्रालय के तहत की गई है.

2. इसने 30 जनवरी 2017 को दो पायलट शाखाएं खोलकर, रायपुर में एक और दूसरा रांची में ऑपरेशन शुरू किया.

3. इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक बचत खातों पर 4 प्रतिशत ब्याज दर की पेशकश करेगा.

 

4. भुगतान बैंक लोगों और छोटे व्यवसायों से प्रति खाता 1 लाख रुपये तक जमा स्वीकार कर सकते हैं.

5. इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक अन्य वित्तीय सेवा प्रदाताओं के साथ गठबंधन कर थर्डपार्टी प्रोडक्ट की पेशकश करेगा. उदाहरण के लिए ऋण के मामले में, इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक पीएनबी के एजेंट के रूप में काम करेगा.

6. इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक बचत और चालू खातों, मनी ट्रांसफर, प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण, बिल और उपयोगिता भुगतान और उद्यम और व्यापारी भुगतान जैसे उत्पादों की एक श्रृंखला पेश करेगा.

7. इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के टेक्नोलॉजी प्लेटफार्म का उपयोग करते हुए इन उत्पादों और सेवाओं को कई चैनलों (काउंटर सर्विसेज, माइक्रो-एटीएम, मोबाइल बैंकिंग ऐप, एसएमएस और आईवीआर) में पेश किया जाएगा.

8. इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक को अपने खातों के साथ 17 करोड़ डाक बचत बैंक (पीएसबी) खातों को जोड़ने की अनुमति दी गई है.

9. सरकार ने बयान में कहा इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक को आम आदमी के लिए एक सुलभ, किफायती और भरोसेमंद बैंक के रूप में देखा गया है. यह डाक विभाग के विशाल नेटवर्क का लाभ उठाएगा, जिसमें 300,000 से अधिक पोस्टमेन और ग्रामीण डाक सेवकों के साथ देश के हर कोने को शामिल किया जाएगा.

10. इस सप्ताह के शुरू में मंत्रिमंडल ने इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) के लिए 1,435 करोड़ रुपये खर्च करने में 80% की वृद्धि को मंजूरी दे दी थी. आईपीपीबी परियोजना परिव्यय 800 करोड़ रुपये से 1,435 करोड़ रुपये तक पहुंच जाएगा - यह एयरटेल पेमेंट्स बैंक और पेटीएम पेमेंट्स बैंक जैसे मौजूदा ऑपरेटरों के साथ बाजार में प्रतिस्पर्धा करने के लिए अतिरिक्त अग्निशक्ति प्रदान करेगा.

ये भी पढ़ें : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज करेंगे पेमेंट बैंक का उद्धघाटन, जानें इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक से जुड़ी सारी जानकारी

First published: 1 September 2018, 12:37 IST
 
अगली कहानी