Home » बिज़नेस » India's crude oil production drops 4.15% to 34.2 million tonne in FY19
 

भारत के क्रूड ऑयल उत्पादन में आयी जबरदस्त गिरावट, खपत में बढ़ोतरी

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 April 2019, 12:48 IST

वित्त वर्ष 2018-19 में भारत का कच्चे तेल का उत्पादन 4.15 प्रतिशत घटकर 34.2 मिलियन टन (MT) हो गया, जबकि वित्त वर्ष 2017-18 के दौरान यह 35.68 MT था. दूसरी ओर इसी अवधि के दौरान प्राकृतिक गैस उत्पादन में 0.69 प्रतिशत की मामूली वृद्धि देखी गई. पिछले वित्त वर्ष की अप्रैल-मार्च अवधि के दौरान सीएनजी उत्पादन 32873.37 मिलियन मीट्रिक मानक क्यूबिक मीटर (MMSCM) देखा गया था, जबकि 2017-18 में इसी अवधि के दौरान 32649.31 MMSCM था.

सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों में राज्य में ONGC ने अप्रैल से मार्च 2018-19 के दौरान कच्चे तेल के उत्पादन में 5.4 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की, जो 2017-18 की अप्रैल-मार्च अवधि के दौरान 21.04 मीट्रिक टन बनाम 22.25 मीट्रिक टन थी. कंपनी द्वारा अप्रैल-मार्च 2018-19 के दौरान प्राकृतिक गैस का उत्पादन 24674.65 MMSCM था, जो पिछले वर्ष की इसी अवधि के दौरान उत्पादन की तुलना में 5.31 प्रतिशत अधिक है.

 

एक अन्य सार्वजनिक क्षेत्र की प्रमुख ऑयल इंडिया लिमिटेड (OIL) ने 2017-18 की तुलना में पिछले वित्त वर्ष के दौरान अपने कच्चे तेल के उत्पादन में 2.46 प्रतिशत की गिरावट के साथ 3.3 मीट्रिक टन की गिरावट देखी. 2018-19 की अप्रैल से मार्च अवधि के दौरान OIL द्वारा प्राकृतिक गैस का उत्पादन भी पिछले वर्ष की तुलना में 5.54 प्रतिशत कम हुआ.

निजी क्षेत्र के गैस उत्पादन में गिरावट का कारण रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) द्वारा D1D3 क्षेत्र में दो कुओं को बंद करना शामिल है. अप्रैल-मार्च, 2018-19 के दौरान रिफाइनरी का उत्पादन 257204.86 टीएमटी था, जो पिछले साल की समान अवधि में उत्पादन की तुलना में 2.09 प्रतिशत अधिक था. वित्तीय वर्ष के दौरान सीपीएसई रिफाइनरीज का उत्पादन 150975.66 टीएमटी था, जो पिछले वर्ष के उत्पादन की तुलना में 3.95 प्रतिशत अधिक है.

एनडीए सरकार ने घरेलू उत्पादन बढ़ाकर 2022 तक कच्चे तेल के आयात में 10 प्रतिशत की कमी लाने की योजना तैयार की थी. हालांकि कुल कच्चे तेल की खपत में देश की आयात निर्भरता 2014-15 में 77 प्रतिशत से बढ़कर 2018-19 की अंतिम तिमाही में 84.7 प्रतिशत हो गई. इसलिए उत्पादन में गिरावट को सरकार की योजना के लिए एक झटका माना जा सकता है.

राजनीति में आया तो मेरी पत्नी मुझे छोड़ देगी : रघुराम राजन

First published: 26 April 2019, 12:45 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी