Home » बिज़नेस » India’s economic growth to slow to 7.3% in 2019: Moody’s
 

भारत की जीडीपी को लेकर मूडीज जारी किया ये महत्वपूर्ण आंकड़ा

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 November 2018, 14:24 IST

मूडी इन्वेस्टर सर्विस ने गुरुवार को कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था 2018 में 7.4% का विस्तार करेगी, लेकिन बढ़ती ब्याज दरों के चलते विकास दर अगले वर्ष 7.3% तक धीमी हो जाएगी. 'ग्लोबल मैक्रो आउटलुक 2019-20' नामक अपनी रिपोर्ट में, मूडी ने कहा कि अर्थव्यवस्था 2018 की पहली छमाही (जनवरी-जून) में 7.9% बढ़ी है, जो नोटबंदी की बाद की स्थिति को दर्शाती है. जिसमे यह कहा गया है कि उधार लेने की लागत पहले से ही उच्च ब्याज दरों पर बढ़ी है.

 

मूडी ने कहा है कि यह उम्मीद है कि भारतीय रिज़र्व बैंक 2019 से बेंचमार्क दर बढ़ाने के लिए घरेलू मांग को प्रभावित करेगा. ये कारक अगले कुछ वर्षों में भारतीय अर्थव्यवस्था के विकास की गति को सीमित करेंगे, 2019 और 2020 में वास्तविक सकल घरेलू उत्पाद की वृद्धि 7.3% के साथ 2018 में लगभग 7.4% थी." मूडी ने कहा कि वैश्विक आर्थिक विकास 2019 और 2020 में 2018 और 2017 के मुकाबले अनुमानित 3.3% से 2.9% धीमी हो जाएगी.

नोटबंदी के दो साल पूरे होने पर कहा कि नोटबंदी के बाद डिजिटल ट्रांजैक्शन काफी तेजी से बढ़ गया. सितंबर 2018 तक BHIM ऐप का ऐंड्रॉयड वर्जन 3 करोड़ 55 लाख जबकि आईओएस वर्जन 17 लाख डाउनलोड हो चुका था. आंकड़ों की मानें तो 18 अक्टूबर 2018 तक BHIM ऐप से 8,206.37 करोड़ के कुल 18 लाख 27 हजार ट्रांजैक्शन किए गए. लेकिन जाहिर तौर पर उन लोगों को नुकसान हुआ जो कि टेक-सेवी नहीं थे और जिनका आर्थिक आय-व्यय नगद पर ही निर्भर था.

First published: 8 November 2018, 14:24 IST
 
अगली कहानी