Home » बिज़नेस » India TikTok ban causing $500,000 daily loss, risks jobs: China's Bytedance
 

TikTok पर बैन लगाने से कंपनी को प्रतिदिन हो रहा है 500,000 डॉलर का नुकसान

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 April 2019, 11:05 IST

लोकप्रिय चीनी वीडियो ऐप TikTok पर भारत के प्रतिबंध से प्रतिदिन 500,000 डॉलर का नुकसान हो सकता है. जबकि इसने 250 से ज्यादा नौकरियों को खतरे में दाल दिया है. कंपनी ने एक अदालत में यह तर्क दिया है. TikTok लोगों को छोटे वीडियो बनाने की अनुमति देता है. एनालिटिक्स फर्म सेंसर टावर के मुताबिक इसे भारत में अब तक लगभग 300 मिलियन यूजर्स ने डाउनलोड किया है.

इस महीने की शुरुआत अदालत ने इस ऐप पर अश्लील साहित्य को प्रोत्साहित इस घटनाक्रम ने बायटेंस की विकास योजनाओं को झटका दिया है, जो जापान के सॉफ्टबैंक ग्रुप कॉर्प और निजी इक्विटी द्वारा समर्थित है. सूत्रों के अनुसार दुनिया के सबसे मूल्यवान स्टार्टअप में से एक जिसकी कीमत लगभग 75 बिलियन डॉलर है.

 

प्रतिबंध ने भारत में सोशल मीडिया उद्योग को भी चिंतित कर दिया है क्योंकि यह कानूनी चिंताओं को बढ़ा रहा है. शनिवार को भारत के सर्वोच्च न्यायालय में दायर की गई फाइलिंग में, बायेडेंस ने अदालत से प्रतिबंध हटाने का आग्रह किया और इसे Google और Apple जैसी कंपनियों को अपने प्लेटफार्मों पर ऐप फिर से उपलब्ध कराने के लिए कहा.

कंपनी ने कहा इससे प्रति दिन 500,000 डॉलर के वित्तीय घाटे में कमी आई. TikTok के प्रवक्ता और संघीय आईटी मंत्रालय ने टिप्पणी के अनुरोधों का जवाब नहीं दिया. सुप्रीम कोर्ट ने अब तक बायटेंस द्वारा बार-बार की गई दलीलों पर कोई अंतरिम राहत नहीं दी है और मामले को दक्षिणी तमिलनाडु राज्य की अदालत में वापस भेज दिया है, जहां मामले की अगली सुनवाई बुधवार को होगी.

एस्सेल ग्रुप-समर्थित ऐप-आधारित बस ऑपरेटर ZipGo हुआ बंद : रिपोर्ट

First published: 24 April 2019, 11:05 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी