Home » बिज़नेस » Indian railways soon to have airport like entry and security system
 

मोदी सरकार के इस कदम से आतंकियों के आए बुरे दिन, अब देश का हर रेलवे स्टेशन होगा सेफ

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 June 2019, 18:10 IST

एयरपोर्ट की तरह अब रेलवे स्टेशनों पर प्रवेश और निकास होगा. यानि अब आप बिना किसी वैध टिकट के स्टेशन परिसर में प्रवेश नहीं कर सकते हैं. इसके साथ-साथ पटरियों पर ऊंची-ऊंची दीवारें बनाई जाएगी. ताकि लोग बेकार की भीड़ ना बढ़ाएं.

इस फैसले को लेकर रेल मंत्रालय का कहना है कि रेलवे यात्रियों की सुरक्षा करना हमारा प्रमुख लक्ष्य है. मंत्रालय ने कहा, "एयरपोर्ट जैसी सुरक्षा के लिए आरपीएफ कमांडो को भी सीआईएसएफ कमांडो की तरह ट्रेनिंग दी जा रही है. यह कमांडो स्टेशन के प्रत्येक प्रवेश व निकास द्वारों पर तैनात रहेंगे."

इस कार्य को करने के लिए सरकार द्वारा 114.18 करोड़ रुपए जारी कर दिए गए हैं. देश के प्रमुख स्टेशनों पर नया एक्सेस कंट्रोल सिस्टम लगाया जाएगा. इन स्टेशनों पर सिर्फ उन्ही लोगों का प्रवेश होगा, जिनके पास वैध टिकट है. इसके साथ ही साथ रेलवे स्टेशन पर तीन मीटर की लंबाई वाली ऊंची दीवारें पटरियों के दोनों ओर बनाई जाएगी.

इस फैसले को लेकर रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) के महानिदेशक अरुण कुमार ने कहा, "उनके लिए सुरक्षा प्राथमिकता है. अभी भी देश के कई प्रमुख रेलवे स्टेशनों पर सुरक्षा के मद्देनजर काफी खामियां हैं. ऐसा इसलिए क्योंकि ज्यादातर रेलवे स्टेशन पर सारी जगह खुली हैं, जिससे लोग कहीं से भी आ जाते हैं."

 

इन स्टेशनों पर होगी शुरुआत

ये सिस्टम फिलहाल कुछ ही स्टेशनों पर लागू किया जाएगा. बताया जा रहा है कि ये सिस्टम सबसे पहले भोपाल के हबीबगंज और गुजरात के गांधीनगर स्टेशन पर शुरू होगा. इसके बाद दिल्ली और मुंबई के प्रमुख स्टेशनों पर इस सिस्टम को लागू किया जाएगा.

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में लगातार छठे दिन कटौती, आज इतने कम हुए तेल के रेट

इसके साथ-साथ आरपीएफ के खुफिया विभाग को भी और अधिक मजबूत करने की कोशिश की जा रही है.  बताया जा रहा है कि आरपीएफ के कानून में भी संशोधन किया जाएगा, ताकि इन्हें और अधिक जांच का अधिकार मिल सके.

सावधान ! गोल्डन कलर का ये WhatsApp कहीं आपने तो डाउनलोड नहीं किया ?

सुरक्षा में होती थी चूक

रेलवे मंत्रालय द्वारा इस कदम को इसलिए उठाया जा रहा है क्योंकि हाल के जो प्रवेश और निकास के हालात हैं, इससे कोई भी व्यक्ति स्टेशन पर प्रवेश कर जाता है. इससे लोगों की सुरक्षा में चूक होने की संभावना बढ़ जाती है. ज्यादातर आतंकियों का नजर भी इन्हीं स्टेशनों पर होता है. आतंकी पहले भी दिल्ली, मुंबई, लखनऊ, वाराणसी और गुवाहाटी जैसे स्टेशनों को अपना निशाना बना चुके हैं.

साथ ही साथ ट्रेन में कई बार बम विस्फोट भी हो चुके हैं. इन्हीं घटनाओं को देखते हुए वर्तमान में सरकार द्वारा ये कदम उठाने का फैसला लिया गया है.

IRCTC में सुपरवाइजर के पद पर निकली भर्तियां, 25 हजार रुपये मिलेगी सैलरी

 

First published: 5 June 2019, 18:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी