Home » बिज़नेस » Indian rupee hits record low as domestic indices suffer because of Turkish lira crisis
 

तुर्की की मुद्रा लीरा पर संकट के चलते भारतीय रुपये में रिकॉर्ड गिरावट

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 August 2018, 11:28 IST

नकारात्मक वैश्विक संकेतों के चलते भारतीय बेंचमार्क इंडेक्स सप्ताह में एक कमजोर स्तर पर पहुंच गया, जिससे भारतीय रुपये में डॉलर के मुकाबले 69.62 तक रिकार्ड कमी आयी है. 10 बजे बीएसई सेंसेक्स 256 अंक से नीचे था और 37,613 पर कारोबार कर रहा था, जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज निफ्टी 75 अंक नीचे 11,354 पर कारोबार कर रहा था.

शुरुआती कारोबार में तुर्की लीरा के लगभग 9% गिरने का एशियाई बाजारों का सामना करना पड़ा. 10 बजे जापान के निक्केई 225 पर 400 अंक से कम कारोबार कर रहा था जबकि ताइवान टीएसईसी 50 इंडेक्स 260 अंक से कम था. शंघाई एसई कंपोजिट इंडेक्स 1.73% नीचे बंद हुआ, जबकि हांगकांग के हैंग सेंग 510 से अधिक अंक नीचे था.

तुर्की के राष्ट्रपति एर्दोगान ने नागरिकों से सोने और डॉलर का आदान-प्रदान करने के लिए कहा था क्योंकि संयुक्त राज्य अमेरिका के साथ संबंधों के खराब होने के कारण देश की मुद्रा में लगभग 1 9% गिरावट आई है.

10 अगस्त को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने तुर्की से धातु आयात पर उच्च शुल्क की घोषणा की थी. रविवार को एर्डोगन ने तुर्की से युद्ध करने का विदेशी देशों पर आरोप लगाया, द गार्जियन के अनुसार उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ट्रम्प प्रशासन की योजना का मुकाबला करने के लिए उचित व्यापार उपायों का पालन करेगी. कोल इंडिया सोमवार सुबह सेंसेक्स पर शीर्ष लाभकर्ता था, इसके बाद सन फार्मा, महिंद्रा एंड महिंद्रा और विप्रो. निफ्टी 50 पर, टेक महिंद्रा शीर्ष लाभकारी था.

ये भी पढ़ें ; 32 करोड़ जनधन खाताधारकों को 15 अगस्त को देंगे पीएम मोदी ये बड़ा तोहफा

First published: 13 August 2018, 11:22 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी