Home » बिज़नेस » indigo airlines expresses interest in buying stake in government airlines air india
 

IndiGo ने जताई Air India को खरीदने की इच्छा

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 June 2017, 18:12 IST

मोदी सरकार के सरकारी विमान कंपनी Air India में हिस्सेदारी बेचने के फैसले के एक दिन बाद निजी एयरलाइंस कंपनी Indigo ने अपनी इच्छा जताई है. Indigo ने Air India में हिस्सेदारी खरीदने में अपनी रुचि दिखाते हुए सिविल एविएशन मिनिस्ट्री को एक लेटर लिखा है.

बुधवार को कैबिनेट की बैठक के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि सैद्धांतिक रूप से एयर इंडिया के विनिवेश की मंजूरी दे दी गई है.

दरअसल, Indigo ने मार्केट शेयर के हिसाब से एयर इंडिया को खरीदने की इच्छा जताई है. सिविल एविएशन सचिव आरएन चौबे के मुताबिक, ‘बुधवार को हुए कैबिनेट फैसले के बाद Indigo की तरफ से एयर इंडिया को लेकर इच्छा जताई गई. उन्होंने कहा कि एयर इंडिया में उनकी काफी रूचि है.' बता दें कि कैबिनेट ने बुधवार को एयर इंडिया के विनिवेश को मंजूरी दे दी है.

एयर इंडिया पर 60,000 करोड़ रुपये का कर्ज

एयर इंडिया के पास लगभग 60,000 करोड़ रुपये का कर्ज है, जिसमें करीब 21,000 करोड़ रुपये एयरक्राफ्ट से जुड़े लोन हैं और करीब 8,000 करोड़ रुपये वर्किंग कैपिटल के रूप में शामिल हैं. पिछले पांच सालों में सरकार ने इस एयरलाइंस को 25,000 करोड़ रुपये दिए हैं और 2032 तक इतनी ही रकम और दिए जाने की बात कही है. इन सबके बाबजूद भी एयर इंडिया को हर साल 3000 करोड़ रुपये का घाटा हो रहा है.

First published: 29 June 2017, 18:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी