Home » बिज़नेस » IPPB : India Post Payments Bank has incorporated as public sector bank under the Department of Posts and provide all banking facilities
 

Post Office बन गया India का सबसे बड़ा पेमेंट Bank, मुफ्त मिलेंगी ये सेवाएं

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 April 2018, 18:37 IST

1 अप्रैल से सभी डाकघर पेमेंट बैंक बन जाएंगे और दूसरे बैंकों की तरह इसमें भी पैसे डिपॉजिट कर सकते हैं. इस बैंक को 'इंडिया पोस्‍ट पेमेंट बैंक'का नाम नाम दिया गया है. इसकी खासियत है कि इसमें पोस्‍ट ऑफिस की सामान्‍य बचत जमा से 1.5 फीसदी ज्‍यादा ब्‍याज मिलेगा.

इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक के जरिए ग्राहकों को कई बैंकिंग सेवाएं फ्री मिलेगी. यह पेमेंट बैंक देश के सभी पोस्ट ऑफिस में खोला जाएगा. बर्तमान में पूरे देश में 1.55 लाख पोस्ट ऑफिस हैं और अब  'इंडिया पोस्‍ट पेमेंट बैंक' देश की सबसे बड़ी पेमेंट बैंक होगी. इसमें 650 पेमेंट बैंक उनकी सहायता करेंगे.

ग्राहकों की सुविधा का रखा है ख्याल

देश के सभी बैंक एटीएम और अन्य बैंकिंग सुविधाओं के लिए पैसे चार्ज करते है, लेकिन इंडिया पोस्‍ट पेमेंट बैंक अपने कस्टमर से एटीएम एवं इंटरनेट सेवा के लिए कोई चार्ज नहीं लेगा. इसी तरह मोबाइल अलर्ट के लिए भी कोई चार्ज नहीं लगेगा. अभी ज्यादातर बैंक 25 रुपए से लेकर 50 रुपए तक एसएमएस अलर्ट के लिए चार्ज लेते हैं.

इसी तरह  बैलेंस मेंटेन करने के लिए भी कोई चार्ज नहीं देना पड़ेगा. इसके तहत एक लाख रुपये तक का बचत खाता, 25 हजार तक की जमा राशि पर 5.5 फीसदी ब्याज, चालू खाता और थर्ड पार्टी इंश्योरेंस जैसी सुविधाएं मिलेंगी.

ये भी पढ़ें -अल्ट्रा क्लीन BS-6 पेट्रोल-डीजल इस्तेमाल करने वाला पहला राज्य बना दिल्ली

ग्रामीण इलाकों में भी मिलेगी डिजिटल सर्विस

सुदूर ग्रामीण इलाकों में बैंकिंग की डिजिटल सर्विस पहुंचाने की व्यवस्था की गयी है. इसके तहत पोस्ट मैन और ग्रामीण डाक सेवक शहरी और ग्रामीण इलाकों में डिजिटल पेमेंट सेवा पहुंचाएंगे.

साल 2015 में आरबीआई ने भारतीय पोस्ट को पेमेंट बैंक के रूप में काम करने की मंजूरी दी थी.
गौरतलब है कि इस बैंक की परिकल्पना RBI के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने की थी.  इससे बैंकिंग सेक्टर में विविधता आएगी और अब तक बैंकिंग व्यवस्था से दूर रिमोट इलाके के लोग भी बैंकिंग सिस्टम से जुड़ेंगे.

First published: 1 April 2018, 18:37 IST
 
अगली कहानी