Home » बिज़नेस » Iranian president says US will not be able to stop his country from exporting oil
 

ईरान की अमेरिका को चेतावनी- हमारा तेल निर्यात रोका तो फारस की खाड़ी वाली सप्लाई भी रोक देंगे

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 December 2018, 12:07 IST

 

मंगलवार को ईरानी राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा कि अमेरिका ईरान के तेल निर्यात को नहीं रोक पाएगा. रूहानी ने यह चेतावनी भी दी कि अगर वाशिंगटन तेहरान के निर्यात को रोकना चाहता है तो फारस की खाड़ी से कोई तेल निर्यात नहीं किया जाएगा. गौरतलब है कि पिछले महीने से ईरान पर अमेरिकी प्रतिबन्ध लागू हो गए हैं.

भारत उन आठ देशों में से एक है जिंझे वाशिंगटन डीसी ने प्रतिबंधों के बावजूद तेहरान से अस्थायी रूप से तेल आयात करने की अनुमति दी है. ट्रम्प प्रशासन ने पहले कहा था कि यह 5 नवंबर तक ईरान से अपने तेल आयात को शून्य करने के लिए भारत समेत सभी देशों से उम्मीद है.

ईरानी राष्ट्रपति ने एक बयान में कहा कि "अमेरिका को पता होना चाहिए कि हम अपना तेल बेच रहे हैं और बेचना जारी रखेंगे. रूहानी ने कहा "अमेरिका को पता होना चाहिए कि यदि वह ईरान के तेल निर्यात को रोकना चाहता है तो फारस की खाड़ी से कोई तेल निर्यात नहीं किया जाएगा."

 

इस्लामिक रिपब्लिक न्यूज एजेंसी की रिपोर्ट में कहा गया है कि रूहानी ने दावा किया कि "40 साल के संघर्ष के बाद ईरान ने अमेरिका के खिलाफ ऐतिहासिक जीत हासिल की थी. उन्होंने दावा किया कि अमेरिका ने एक कथित तौर पर ईरानी सरकार को उखाड़ फेंकने का प्रयास किया था, जो साजिश विफल रही थी.

राष्ट्रपति ने अमेरिका पर आरोप लगाया कि वह भारत, चीन और यूरोप को ईरान से दूर करने और "ईरानोफोबिया" फैलाने की कोशिश कर रहा था. हालांकि उन्होंने आगे कहा "सभी देशों ने ईरान पर अमेरिकी प्रतिबंधों की निंदा की.

ये भी पढ़ें : विजय माल्या की पुकार- मैं 100 फीसदी कर्ज लौटाने को तैयार हूं, प्लीज इसे स्वीकार कीजिये

First published: 5 December 2018, 12:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी