Home » बिज़नेस » IRCTC: Indian Railway has changed rule regarding eTicketing System PNR Status, know Ticket Booking Boarding Rule
 

IRCTC: रेलवे की सबसे बड़ी सौगात, अब ट्रेन लेट होने पर वापस होंगे पूरे पैसे

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 May 2019, 16:12 IST

भारत में रेलवे, यात्रा का सबसे सुगम और सस्ता संसाधन है. रोजाना करीब 1 करोड़ 30 लाख लोग यात्रा के लिए रेलवे का उपयोग करते हैं. भारतीय रेलवे यात्रियों की सुविधा और भी बेहतर करने के लिए नियमों में बदलाव के साथ-साथ नई-नई सर्विस भी लांच करती रहती है. रेलवे ने टिकट बुकिंग और पीएनआर संबंधित नियमों में परिवर्तन किए हैं. नए नियम से कनेक्टिंग यात्रा के दौरान ट्रेन लेट होने पर यात्रियों को टिकट के पूरे पैसे वापस किए जाएंगे.

वापस होंगे पूरे पैसे 

नए नियम के मुताबिक अब ट्रेन छूटने पर आपके पैसों का रिफंड आसान हो गया है. यानि किसी यात्री ने यात्रा के लिए कनेक्टिंग ट्रेन की टिकट ली है और उनकी यह ट्रेन छूट जाती है तो उसका पूरा पैसा वापिस किया जाएगा. लेकिन इसका लाभ तब मिलेगा जब पहली ट्रेन निर्धारित समय से देरी से स्टेशन पहुंचती है और इस वजह से यात्री की दूसरी ट्रेन छूट जाती है. रेलवे ने 1 अप्रैल से पीएनआर संबंधी एक नियम में बदलाव किया है.

LIC की नई जबरदस्त 'मनी बैक पॉलिसी', निवेश करें 86 रूपये रोजाना, मिलेंगे ₹ 11.62 लाख

सरकार की जबरदस्त NPS स्कीम, 135 रुपये निवेश करें रोजाना, मिलेंगे ₹ 06 लाख सालाना

PNR नियम में बदलाव

रेलवे की ओर से जारी की गई नोटीकेशन के मुताबिक अब यात्रियों के दो PNR एक यात्रा के दौरान साथ में लिंक हो सकेंगे. अब यात्रियों को IRCTC 'ई टिकट' और पीआरएस काउंटर टिकट दोनों एक साथ दिए जाएंगे. अब तक दो पीएनआर एक साथ लिंक नहीं होने से ट्रेन छूटने पर यात्रियों को रिफंड नहीं मिल पाता था.

इस नए नियम के मुताबिक अगर दो टिकट एक साथ लिंक होते हैं तो एक ट्रेन के लेट होने और दूसरी ट्रेन के छूट जाने पर केवल पहले ट्रेन के पैसे कटेंगे और दूदूसरे टिकट का पूरा पैसा रिटर्न होगा, बशर्ते उन्होंने अपने दोनों टिकट में पूरी और सही जानकारी दी हो. इसके अलावा, पहले टिकट का गंतव्य स्टेशन और दूसरे टिकट के द्वारा यात्रा शुरू करने का स्टेशन एक होना चाहिए.

First published: 14 May 2019, 16:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी