Home » बिज़नेस » IRCTC will charge Travel Insurance Premium from passengers, now pay more for online railway E ticket booking
 

IRCTC: रेलवे में सफर हुआ महंगा, अब यात्रियों को देने होंगे इतने ज्यादा पैसे

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 August 2018, 16:38 IST

IRCTC यानि इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज़्म कारपोरेशन 01 सितंबर 2018 से मुफ्त ट्रेवल इंश्योरेंस की सुविधा खत्म कर देगी. E-Ticket बुक करने के बाद अब ट्रेवल इंश्योरेंस के प्रीमियम के पैसे भी आपको अपनी जेब से भरने होंगे. अब तक ये सुविधा सभी रेल यात्रियों के लिए मुफ्त में उपलब्ध थी.

गौरतलब है कि अब इंश्योरेंस की सुविधा वैकल्पिक भी होगी मतलब टिकट बुक करते समय जब आप वेबसाइट पर इंश्योरेंस के ऑप्शन पर क्लिक करेंगे तभी ये इंश्योरेंस मिलेगा और इसके लिए एक्स्ट्रा भुगतान करना होगा.

डिजिटल ट्रांजैक्शन को बढ़ावा देने के लिए इंश्योरेंस की सुविधा को 10 दिसंबर से IRCTC मुफ्त में दे रही थी. अब तक रेलवे ऑनलाइन टिकट बुक करने वालों को 10 लाख रुपए तक का मुफ्त ट्रैवल इंश्योरेंस दे रही थी. ये सुविधा देने के लिए रेलवे ने 3 इंश्योरेंस कंपनियों से कॉन्ट्रैक्ट किया हुआ है जिसमें ICICI लोंबार्ड जनरल इंश्योरेंस, श्रीराम जनरल इंश्योरेंस और रॉयल सुंदरम जनरल इंश्योरेंस कंपनी शामिल है.

IRCTC प्रत्येक यात्री के लिए 92 पैसे का इंश्योरेंस प्रीमियम देता है अब इसके पैसे यात्रियों को ही को ही भरने होंगे. टैक्स मिलाकर यह प्रीमियम  1 रुपए प्रति यात्री हो जाता है. इसके तहत यात्रा के दौरान अगर दुर्धटना में यात्री की मौत हो जाती है तो उसे 10 लाख रुपए दिए जाते हैं या पूर्ण रूप से अपंग होने पर 10 लाख रुपए, अस्थाई तौर पर अपंग होने पर 7.5 लाख रुपए और घायल होने पर 2 लाख रुपए तक के हॉस्पिटल खर्च का भुगतान इंश्योरेंस के पैसे से किया जाता है.

First published: 9 August 2018, 16:38 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी