Home » बिज़नेस » Is the 2000 rupee note really going away, RBI told what is the truth
 

क्या सच में 2000 रुपये का नोट बंद हो रहा है, RBI ने बताया सच क्या है

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 October 2019, 9:36 IST

त्योहारों के सीजन में 2000 रुपये का नोट बंद होने खबरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं. इन ख़बरों में दावा किया जा रहा है कि ATM से 2000 रुपये के नोटों को हटाया जा रहा है. कहा गया है कि एसबीआई ने इसकी शुरुआत कर दी है. वहीं भारतीय रिजर्व बैंक ने इन ख़बरों को ख़ारिज कर दिया है. आरबीआई ने इन ख़बरों को अफवाह बताया है. साथ ही यह भी कहा है कि इस तरह के आदेश किसी भी बैंक को नहीं दिए गए हैं.

खबर में दावा किया जा रहा था कि 2000 बैंकनोट 10 अक्टूबर 2019 से बंद कर दिए जायेंगे. व्हाट्सएप पर वायरल होने वाले संदेश में कहा गया है कि निकासी की एक निश्चित सीमा है, 10 दिनों में 50,000 निर्धारित की गई है. वायरल मैसेज में लिखा है 10 अक्टूबर 2019 के बाद आप अपने 2000 रुपये के नोट नहीं बदल सकते.”

2000 का नोट पहली बार 8 नवंबर 2016 को नोटबंदी के बाद पेश किया गया था. 2019 के लिए RBI की वार्षिक रिपोर्ट से पता चला है कि 2000 के नोट की हिस्सेदारी 3% है, लेकिन संचलन के मूल्य में इसकी हिस्सेदारी 31.2% है. 26 सितंबर को, पीएमसी बैंक संकट के बाद एक संदेश वायरल हुआ जिसमें बताया गया कि RBI नौ बैंकों को बंद कर रहा है.

अमेरिकी पैनल ने कहा- जम्मू-कश्मीर पर प्रतिबंध का पड़ा है विनाशकारी प्रभाव, अब हटाने का समय

First published: 8 October 2019, 10:13 IST
 
अगली कहानी