Home » बिज़नेस » Jallianwala Bagh Massacre: Rupees 100 coin has been released by Vice President M Venkaiah Naidu at JallianwalaBagh memorial
 

100 रूपये का नया सिक्का जारी, शहीदों को दी श्रद्धांजलि

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 April 2019, 19:22 IST

जलियांवाला बाग हत्याकांड के आज पूरे 100 वर्ष बीत चुके हैं और देश जालियांवाला बाग की 100वीं बरसी पर शहीदों को याद कर रहा है. इस अवसर पर देशभर के नेताओं सहित भारत में ब्रिटिश उच्चायुक्त ने विजिटर्स बुक में शहीदों को याद करते हुए कुछ शब्द भी लिखे और इस को इतिहास में हुआ शर्मनाक घटना बताया और कहा हमें उसका गहरा दुख है.

100 रूपये का सिक्का जारी

अमृतसर के जलियांवाला बाग नरसंहार की देश आज 100वीं बरसी पर भारत के उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने इस मौके पर 100 रुपए का सिक्का जारी किया और शहीदों को श्रद्धांजलि दी . इस सिक्के पर जलियांवाला बाग नरसंहार के स्मारक का चित्र बना हुआ है. इस मौके पर उप राष्ट्रपति ने पोस्टल स्टाम्प भी जारी किया है.

इस मौके पर उप राष्ट्रपति ने जलियांवाला बाग की विजिटर्स बुक में लिखा कि ब्रिटिश शासन में क्रूर ब्रिटिश शासकों से आजादी पाने की लड़ाई में अपनी जान की कुर्बानी देने वाले शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुए मुझे गर्व का एहसास हो रहा है. देश के लिए मर मिटने वाले इन शहीदों को मैं सलाम करता हूं. भारत के मानव इतिहास में इस सबसे बड़े नरसंहार के बारे में जानकर मेरा मन दुखी हो जाता है साथ ही साथ एक भारतीय होने पर भी मुझे गर्व का एहसास होता है.

साल 1919 में यानि आज से ठीक 100 साल पहले अमृतसर में हुए इस नरसंहार में हजारों लोग मारे गए थे लेकिन ब्रिटिश सरकार के आंकड़ें में सिर्फ 379 की हत्या दर्ज की गई है. 13 अप्रैल, 1919 को क्रूर अंग्रेज अफसर जनरल डायर ने अमृतसर के स्वर्ण मंदिर से महज डेढ़ किलोमीटर दूर जलियांवाला बाग में मौजूद निहत्‍थे लोगों पर अंधाधुंध गोलियां चलवा दी थीं. इस हत्‍याकांड में 1,000 से ज़्यादा लोग मारे गए थे, जबकि 1,500 से भी ज़्यादा घायल हुए थे. जिस दिन यह घटना हुई, उस दिन बैसाखी थी.

First published: 13 April 2019, 19:13 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी