Home » बिज़नेस » Jet operating fewer than 15 planes, doubts over eligibility to fly abroad
 

जेट एयरवेज के उड़ रहे हैं अब सिर्फ 15 विमान, विदेशी उड़ानों की क्षमता पर उठे सवाल

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 April 2019, 14:59 IST

 बुधवार को नागरिक उड्डयन सचिव पी एस खारोला ने कहा कि जेट एयरवेज के 15 से कम विमान वर्तमान में चालू हैं. खरोला ने कहा "अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उड़ान भरने के लिए एयरलाइन की योग्यता की जांच की जानी चाहिए." उधारदाताओं के एसबीआई के नेतृत्व वाले कंसोर्टियम ने पिछले महीने कैश-हिट जेट एयरवेज का प्रबंधन संभाला था.

नागरिक उड्डयन सचिव ने यहां पर विमान सेवा के सक्रिय बेड़े के बारे में पूछे जाने पर कहा कि "कल यह 28 था" एयरलाइन ने मंगलवार शाम स्टॉक एक्सचेंजों को सूचित किया कि 15 और विमानों को मैदान में उतारा गया है, लेकिन खरोला ने कहा कि मौजूदा बेडा लगभग 15 से कम होगा. एयरलाइन के बेड़े में लगभग 119 विमान हैं. एयरलाइन के वित्त पोषण के मुद्दों के बारे में खारोला ने कहा "मुद्दा बैंकरों और जेट प्रबंधन के बीच है. इसलिए वे एक दूसरे के साथ चर्चा कर रहे हैं."


निजी वाहक ने मंगलवार को कहा कि कम किराए पर किराया न देने के कारण उसने 15 और विमानों को उतारा है. पिछले महीने तक मुंबई मुख्यालय वाली एयरलाइन, जो अब नए स्वामित्व में है, ने लीज रेंटल डिफॉल्ट्स के कारण 54 विमानों को परिचालन से बाहर कर दिया था. 25 मार्च को जेट एयरवेज के बोर्ड ने SBI के नेतृत्व वाले घरेलू ऋणदाताओं द्वारा तैयार एक प्रस्ताव योजना को मंजूरी दी. योजना के तहत उधारदाताओं ने एयरलाइन पर नियंत्रण रखने और 1,500 करोड़ रुपये का फंड बनाने का फैसला किया.

चुनाव से पहले 1700 जनधन खातों में आये 1.7 करोड़, इनकम टैक्स की जांच शुरू

First published: 3 April 2019, 14:59 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी